तो क्या वे फाड़ सके तिरंगा? | मनोरंजन | DW | 02.09.2015
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

तो क्या वे फाड़ सके तिरंगा?

हजार रुपये का लालच देकर क्या क्या नहीं करवा लिया जाता भारत में, तो फिर क्या इसी लालच से कोई कागज का बना तिरंगा भी फाड़ सकता है? वीडियो में देखिए क्या किया लोगों ने...

देशप्रेम और देश के लिए सम्मान भले ही सामान्य स्थिति में बहुत अधिक ना दिखाई देता हो लेकिन कुछ परिस्थितियां आपको एहसास दिला ही देती हैं कि देश की मिट्टी के साथ आपका प्रेम कितना गहरा है. यही चुनौती कुछ लोगों के सामने रखी गई कि क्या वे 10 सेकेंड के अंदर कागज का बना भारत का तिरंगा झंडा फाड़ सकते हैं. देखिए क्या किया उन लोगों ने. यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया गया.


राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 के तहत कोई भी व्यक्ति जो किसी सार्वजनिक स्थान पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज या उसके किसी भाग को जलाता या दूषित आदि करता है, उसको तीन साल तक की सजा या जुर्माना या दोनों दंड दिए जाने की व्यवस्था है.

DW.COM

संबंधित सामग्री