1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

तेंदुलकर बल्लेबाजी के प्रोफेसरः गैरी कर्स्टन

सेंचुरियन में सेंचुरियों का अर्धशतक बनाने वाले सचिन को कोच गैरी कर्स्टन ने बल्लेबाजी का प्रोफेसर कहा है. वो मानते हैं कि सचिन के शतक अतुलनीय हैं और इसके लिए तकनीक, सारे शॉट खेलने की खूबी और तैयारियों को कारण बताते हैं.

default

21 सालों से दुनिया के सभी गेंदबाजों की धुनाई कर रहा नन्हे कद का ये बल्लेबाज क्रिकेट की किताब में छपे हर तरह के शॉट मार सकता है. सचिन क्रिकेट की दुनिया में उस बुलंदी पर खड़े हैं जहां सारे रिकॉर्ड पीछे छूट जाते हैं.

टीम इंडिया के कोच मानते हैं कि उनके इस रिकॉर्ड की कोई बराबरी नहीं कर सकता, "वो खास हैं और उनके पास वो तकनीक है कि हर तरह के शॉट खेल सकें, सचिन बल्लेबाजी के प्रोफेसर हैं." सचिन दुनिया के पहले क्रिकेटर हैं जिसने टेस्ट क्रिकेट में 50 शतक मारे हैं.

Indischer Cricketspieler Sachin Tendulkar

कर्स्टन के मुताबिक,"खेल को लेकर उनका रवैया जबर्दस्त है. वो हर समय सीखने और बेहतर करने के लिए तैयार रहते हैं. हर मैच के लिए वो खास तैयारी करते हैं. उनके लिए हर मैच दो दिन पहले ही तैयारियों के लिहाज से शुरू हो जाता है. मेरा सौभाग्य है कि पिछले तीन साल से मुझे उनके साथ सहयोग करने को मौका मिला."

कर्स्टन ने ये भी कहा कि इतनी ऊंचाई पर पहुंचने के बाद भी वो भारत की उनसे और उंचाइयों की उम्मीद कर रहा है और वो उसे पूरा कर रहे हैं. भारत दूसरे देशों से अलग है और यहां जितना उन्हें सम्मान मिलता है वो भी अनोखा है. हर वक्त लोगों की भीड़ उनके साथ रहने को आतुर रहती है.

कर्स्टन ने बताया कि टीम में सीनियर खिलाड़ी होने के बावजूद नेट पर सबसे ज्यादा समय बिताते हैं और सबसे ज्यादा गेंदो का सामना करते हैं. नेट प्रैक्टिस के दौरान भी वो कोई कमजोर शॉट नहीं खेलते और हर वक्त उनका ध्यान अपने खेल पर होता है.

सचिन के मौजूदा दौर के बारे में कर्स्टन ने कहा,"ये साल तो उनके लिए सबसे शानदार रहा है. मेरी राय में वो इस समय सबसे अच्छा खेल रहे हैं. वो वर्तमान दौर का मजा ले रहे हैं."

कोच गैरी कर्स्टन दक्षिण अफ्रीकी टीम के पूर्व बल्लेबाज हैं. सचिन के बारे में उनका ये भी मानना है कि निजी रूप से बढ़िया खेलने वाले सचिन टीम के बारे में सबसे ज्यादा सोचते हैं.

कर्स्टन के मुताबिक उनसे पूरी टीम को सचिन से प्रेरणा मिलती है. भारत की पहले टेस्ट में हार के बारे में कर्स्टन ने माना कि दक्षिण अफ्रीका मजबूत स्थिति में है. हालांकि मानते हैं कि तस्वीर बदल भी सकती है. कर्स्टन को खिलाड़ियों के साथ ही मौसम के भी अपने पक्ष में जाने के भरोसा है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः एस गौड़

DW.COM