1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

तूफान के बाद न्यूयॉर्क में इमरजेंसी

अमेरिका के पूर्वोत्तर में आए तूफान से आम जीवन ठप हो गया है. न्यूयॉर्क और न्यू जर्सी में आपात काल लगा दिया गया है. देश भर में 2,000 से ज्यादा उड़ानों को रद्द कर दिया गया है.

न्यूयॉर्क और न्यू जर्सी में स्कूल बंद कर दिए गए हैं. न्यूयॉर्क और बॉस्टन के हवाई अड्डों से और विमानों के रद्द होने की संभावना है. न्यूयॉर्क राज्य के कई हाइवे बंद कर दिए गए हैं और ट्रेन यात्राओं में भी भारी कटौती की गई है. अमेरिकी मौसम विभाग का कहना है कि बॉस्टन के पास बॉक्सफर्ड में 53 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई. मैसेचुसेट्स, न्यूयॉर्क और रोचेस्टर में करीब 46 सेंटीमीटर बर्फ गिरी. मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि तापमान और गिरेंगे और शून्य से 23 डिग्री नीचे तक पहुंच सकते हैं. शुक्रवार को न्यूयॉर्क का अधिकतम तापमान शून्य से 9.5 डिग्री कम रहेगा. इस सर्दी में बेघर लोगों को बचाने के लिए खास टीमों को बाहर भेजा गया है. तूफान गुरुवार शाम को आया जब शहर पर बर्फ के बड़े टुकड़े गिरने लगे.

न्यूयॉर्क के गवर्नर ऐंड्रयू कुओमो ने लोगों से कहा है कि वे घर ही में रहे. न्यू जर्सी गवर्नर क्रिस क्रिस्टी ने निजी कंपनियों में काम कर रहे लोगों को घर पर रहने को कहा है.

सरकारी दफ्तरों और अदालतों को भी बंद कर दिया गया है. मौसम विभाग ने शिकागो से लेकर वॉशिंगटन तक तूफान के संकेत दिए हैं. अमेरिका के मध्य पश्चिमी इलाके में भी बर्फबारी जारी है और शिकागो में ओहेयर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से भी विमानें रद्द हुई हैं.

खास कर न्यूयॉर्क के नए मेयर बिल दे ब्लासियो के लिए तूफान बड़ी परीक्षा है. उन्होंने बुधवार को ही मेयर पद संभाला है. उन्होंने पहले मेयर रहे माइकल ब्लूमबर्ग की 2010 के तूफान के बाद उनकी कड़ी आलोचना की थी. बहरहाल, दे ब्लासियो ने कहा है कि उन्होंने सड़कों पर से बर्फ हटाने के लिए लोग भेज दिए हैं और यह लोग सड़कों पर नमक छिड़ कर बर्फ पिघलाने की कोशिश कर रहे हैं.

एमजी/एजेए (एएफपी, एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री