1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

तुर्की में खान दुर्घटना में गिरफ्तारियां

सोमा में खदान दुर्घटना के बाद पहली बार जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ गिरफ्तारी के वारंट जारी किए गए हैं. इधर जर्मनी में तुर्की के प्रधानमंत्री रेचेप तय्यप एरदोवान के इस हफ्ते होने वाले दौरे को लेकर कड़ा विरोध हो रहा है.

खदान में बचाव का काम पूरा हो जाने के बाद पहली गिरफ्तारियां हुई हैं. पांच लोगों के खिलाफ वारंट जारी हुए हैं. आरोप है, गैर जिम्मेदाराना हत्या. गिरफ्तार अधिकारियों में एक है खान का मैनेजर आकिन चेलिक, जिसने कुछ ही समय पहले सुरक्षा खामियों के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था. चेलिक के अलावा सोमा होल्डिंग के दो सुरक्षा अधिकारियों और दो इंजीनियरों को भी गिरफ्तार किया गया है.

रविवार को पुलिस ने 25 संदिग्धों को गिरफ्तार किया, जिसमें खान चलाने वाली कंपनी के कई अधिकारी शामिल थे. चेलिक ने शुक्रवार को सुरक्षा खामियों के आरोपों को नकारते हुए कहा था, "हमारी ओर से कोई लापरवाही नहीं हुई है." सोमा होल्डिंग के अनुसार अधिकारियों ने हर छह महीने पर खान की सुरक्षा जांच की और मार्च में हुए अंतिम जांच में कोई गड़बड़ी नहीं पाई. तुर्की की सरकार भी खान दुर्घटना में अपनी जिम्मेदारी से इनकार कर रही है लेकिन विपक्ष सरकार पर कड़े सुरक्षा नियम लागू नहीं करने का आरोप लगा रहा है.

Der türkische Ministerpräsident Recep Tayyip Erdogan in der Kölnarena 2008

पिछली बार 2008 में आए थे एरदोवान कोलोन

दुर्घटना के बाद तुर्की के कई शहरों में भारी विरोधी प्रदर्शन हुए जहां प्रदर्शनकारियों ने सरकार के इस्तीफे की मांग की. हालांकि यह कहने के लिए प्रधानमंत्री एरदोवान की कड़ी आलोचना हुई है कि इस तरह की दुर्घटनाएं कहीं भी हो सकती हैं, उन्होंने सोमवार को दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को सहायता का आश्वासन दिया है. उन्होंने दुर्घटना के कारणों की जांच कराने का भी वायदा किया है. प्रधानमंत्री ने कहा, "हम जख्मों को भरेंगे."

इस हफ्ते के लिए नियोजित अपने जर्मनी दौरे के बारे में एरदोवान ने कुछ नहीं कहा. वे शनिवार को कोलोन शहर में जर्मनी में रहने वाले तुर्कों की एक सभा को संबोधित करने वाले हैं. जर्मनी में सोमा दुर्घटना में सरकार के रवैये को लेकर इस सभा का भारी विरोध हो रहा है. बहुत से जर्मन राजनीतिज्ञों ने इस सभा का विरोध किया है और प्रधानमंत्री एरदोवान पर आरोप लगाया है कि वे जर्मनी में चुनाव प्रचार के लिए आ रहे हैं.

इस बीच पिछले मंगलवार को खान में लगी आग के कारणों की जांच चल रही है. तुर्की के इतिहास की सबसे बड़ी खान दुर्घटना में सरकारी आंकड़ों के अनुसार 301 लोग मारे गए. सरकार ने शनिवार को वचाव कार्य के समाप्त होने की घोषणा की.

एमजे/एजेए (डीपीए)

संबंधित सामग्री