1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

ताबूत लाओ, चोर भगाओ

दक्षिण अफ्रीका में आए दिन लुटेरे घरों में घुसते हैं और कीमती सामान लेकर निकल जाते हैं. लेकिन अब कुछ लोग ताबूतों की मदद से चोरों को दूर रख रहे हैं.

Symbolbild Beerdigung Särge

कलिनन एक छोटा शहर है, लेकिन यहां हीरों का खनन होता है. कलिनन के घरों में चोरों को दूर रखने के लिए अलार्म से लदी ऊंची दीवारें हैं, लेकिन इसके बावजूद लुटेरे किसी न किसी तरह आ ही जाते हैं.

28,000 लोगों की आबादी वाले कलिनन में कुछ लोग अब ताबूतों की मदद से चोरों को दूर रख रहे हैं. आइडिया रद्दी माल बेचने वाली एक कंपनी के मालिकों को आया. जब से उन्होंने ताबूतों की मदद ली, तब से उनके घर में एक बार भी चोर नहीं आए. पहले हफ्ते में चोर कम से कम तीन बार सामान लूटने आ जाते थे. पूरे दक्षिण अफ्रीका में पिछले साल तीन लाख डकैतियां हुईं.

कंपनी चलाने वाली रीता गातिन्यो कहती हैं, "अपराध बहुत ज्यादा है. मैं अपने पास बंदूक नहीं रखती, मैं इसके खिलाफ हूं लेकिन मैं अपनी सुरक्षा के लिए क्या करूं."

पिछले साल गातिन्यो की कंपनी में एक आदमी ताबूत बेचने आया. उसे इसकी और जरूरत नहीं थी. गातिन्यो ने बताया, "मेरे पति ने कहा, मैं इसे बाहर रख देता हूं. शायद चोर अंदर आने से कतराएं. तब से गातिन्यो के घर में चोरी नहीं हुईः "मैं तो कहती हूं वाह, किसी की नजर न लगे. यह तो काम कर रहा है."

गातिन्यो की कंपनी के पास जेल वार्डन रहे रस्टी पूल ने अपने खजाने की पेटी जैसे ट्रेलर को ताबूत में बदल दिया है. रस्टी पूल के बचपन में ताबूतों का इस्तेमाल मेवा रखने के लिए होता था और इन्हें छत पर रखा जाता था. शौकिया बाइक चलाने वाले रस्टी चाहते थे कि कैंपिंग ट्रिप के दौरान वह ताबूत जैसे ट्रेल में सोएं. उन्होंने डिजाइन उसी दौरान बनाई जब प्रीटोरिया में लूटेरों ने तबाही मचा रखी थी.

चोरी से पहले मालिकों के कुत्तों को जहर पिला दिया जाता. रस्टी पूल के घर भी चोर आए और दो मोटरसाइकिल उठा ले गए. लेकिन जब से ताबूत बना है, तब से सारा तनाव दूर. वह अपने तीन पहियों वाली 2000 सीसी की बाइक के पास ताबूत खड़ी कर देते हैं ताकि आते जाते लोग इसे देख सकें. रस्टी कहते हैं, "मुझे लगता है कि खास तौर पर अश्वेत संस्कृति में ताबूतों का सम्मान किया जाता है. लोग इससे दूर ही रहते हैं."

रीता गातिन्यो खुश हैं कि चोर दूर रहते हैं लेकिन कहती हैं, "मैं उम्मीद करती हूं कि लोग इसे दूसरी तरह न लें, कि हम लाशों को जिंदा करने की कोशिश में हैं या लोगों को डरा रहे हैं."

लेकिन रस्टी पूल अपने ताबूत से बेहद खुश हैं. हर रात सोने से पहले वह इसमें लकड़ी का पॉलिश लगाते हैं. ताबूत के बाहर लिखा है, "सास की आखिरी यात्रा."

एमजी/एजेए (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री