1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

तय हुए यूरो 2016 के मैच

2016 की यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप फ्रांस में होगी. इसका उद्घाटन और समापन मैच राजधानी पेरिस के पास स्टाडे डे में खेला जाएगा. पहला मैच शुक्रवार 10 जून को होगा जिसमें मुकाबले की एक टीम फ्रांस की होगी.

फ्रेंच फुटबॉल फेडरेशन के अध्यक्ष नोएल ले ग्रेट ने यह जानकारी दी है. फ्रांस अपने ग्रुप के अन्य मैच मार्से और लिल में खेलेगा. इस टूर्नामेंट में पहली बार कुल 24 टीमें हिस्सा लेंगी. अब तक यूरोपीय चैंपियनशिप का फैसला 16 टीमों के मुकाबले से होता था. 2016 में 24 टीमें शुरू में चार टीमों के छह ग्रुपों में बांटी जाएंगी. टूर्नामेंट के 51 मैच 10 स्टेडियमों में खेले जाएंगे.

चैंपियनशिप की मेजबानी करने वाले हर शहर में कम से कम चार मैच खेले जाएंगे. उनमें से तीन मैच ग्रुप स्तर के होंगे जबकि एक मैच नॉक आउट स्तर का होगा. मैच फ्रेंच समय के अनुसार दोपहर तीन, शाम छह और रात नौ बजे शुरू होंगे. हर टीम अपना ग्रुप स्तरीय मैच तीन अलग अलग शहरों में खेलेगी. क्वार्टर फाइनल के बाद सारे मैच नौ बजे रात को होंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग उन्हें देख सकें.

यूरोपीय फुटबॉल संघ यूएफा के अध्यक्ष मिशेल प्लाटिनी ने यूरो 2016 का कार्यक्रम जारी होने के बाद कहा, "मैं समझता हूं कि कैलेंडर खेल प्रेमियों के लिए बहुत ही अच्छा है क्योंकि वे अपने अपने इलाकों में कई टीमों और उनके मैचों को देख पाएंगे." टीमों के बारे में प्लाटिनी का कहना है कि सभी टीमें तीन शहरों में खेलेंगी और किसी को एक ही स्टेडियम में खेलने का घरेलू फायदा नहीं मिलेगा.

UEFA-Präsident Michel Platini

मिशेल प्लाटिनी

यूरोपीय चैंपियनशिप के मैच फ्रांस के बोर्दो, लेंस, लिल, लियों, मार्से, नीस, साँ एतिएन, टुलूस और पेरिस के स्टेडियमों में खेले जाएंगे. फ्रांस ने 1984 में स्पेन को साँ जर्मैं में 2-0 से हराकर पिछली बार यूरोपीय चैंपियनशिप जीती थी, जबकि उसने 1998 में वर्ल्ड कप के फाइनल में ब्राजील को स्टाडे डे फ्रांस में हराया था.

सेमी फाइनल के मैच लियों और मार्से में खेले जाएंगे, जबकि क्वार्टर फाइनल के मुकाबले मार्से, लिल, बोर्दो, साँ डेनिस में होंगे. टूर्नामेंट में 24 टीमों के भाग लेने का मतलब यह होगा कि ग्रुप के 6 विजेता और 6 उपविजेताओं के अलावा तीसरे नंबर आने वाली 4 टीमें अंतिम 16 के राउंड में पहुंचेंगी. आयोजकों का कहना है कि मुकाबलों की योजना इस तरह बनाई गई है कि एक ग्रुप से आगे बढ़ने वाली टीमों का आपस में मुकाबला सिर्फ फाइनल में संभव होगा.

2016 के यूरो कप के लिए क्वालिफाइंग मैच सितंबर में शुरू होंगे. टूर्नामेंट के लिए टिकटों की बिक्री मार्च 2015 में शुरू होगी, लेकिन कौन सी टीम किस स्टेडियम में खेलेगी इसका पता जिसंबर से पहले नहीं चलेगा क्योंकि टूर्नामेंट का ड्रॉ 12 दिसंबर को पेरिस में निकाला जाएगा.

एमजे/एएम (डीपीए)