1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

तन्मय भट्ट के वीडियो पर बवाल: मजाक या अपमान?

कॉमेडियन तन्मय भट्ट के क्रिकेट स्टार सचिन तेंदुल्कर और गायिका लता मंगेश्कर का मजाक उड़ाने वाले वीडियो पर विवाद गहराता जा रहा है. इस मामले ने राजनीतिक तूल भी पकड़ लिया है.

महाराष्ट्र में शिवसेना, बीजेपी और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने भट्ट के खिलाफ मोर्चा खोल लिया है. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के मुखिया राज ठाकरे ने इस मामले में तन्मय भट्ट के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. उधर बीजेपी के आशीष सेलार ने इस मामले को लेकर पुलिस कमिश्नर से मुलाकात की है. मुंबई पुलिस आईटी एक्ट के तहत इस वीडियो की जांच कर रही है.

'सचिन वर्सेज लता सिविल वॉर' नाम से तैयार किए गए इस स्नैपचैट वीडियो में भट्ट ने फेस स्वॉपिंग के ​जरिये इन दोनों सितारों का अभिनय करते हुए मिमिक्री की है. इस विडियो में भट्ट ने इन दोनों के खिलाफ कथित तौर पर बेहद आपत्तिजनक बातें कही हैं. यही वजह है कि तन्मय के ​इस वीडियो की काफी आलोचना हो रही है.

हाल के दिनों में राजनीतिक तौर पर सक्रिय दिखाई दिए हास्य अभिनेता अनुपम खेर ने भी तन्मय के ​इस वीडियो को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा है, ''मैंने 9 बार बेस्ट कॉमिक एक्टर का पुरस्कार जीता है. मेरा हास्यबोध बेहतरीन है. लेकिन यह मजाक नहीं है. बेहुदा और असम्मानजनक है.''

उधर दूसरी तरफ निर्देशक हंसल मेहता ने भी अपने एक ट्वीट में तन्मय की आलोचना की है. लेकिन उन्होंने साथ ही किसी कॉमेडियन के ​खिलाफ कानूनी कार्रवाई पर सवाल उठाया है, ''एआईबी सामान्यतया मजाकिया, तेजतर्रार और होशियार होता है. लेकिन तन्मय भट्ट का वीडियो उनमें से नहीं है. सवाल यह है कि क्या एक बुरे चुटकुले के लिए किसी को सजा देनी चाहिए या उसे अपशब्द कहे जाने जाहिए?''

अभिनेत्री सोनम कपूर तन्मय के समर्थन में उतरी हैं. उन्होंन ट्वीट करते हुए लिखा है, ''डीयर तन्मय एक दोस्त होने के नाते मैं जानती हूं कि तुमने यह किसी को आहत करने के​ लिए नहीं किया बल्कि लोगों को हंसाने के​ लिए किया है.''

उधर वरिष्ठ अधिवक्ता संजय हेगड़े ने भी तन्मय के वीडियो की आलोचना तो की है लेकिन उन्होंने ट्वीट में लिखा है, ''एक देश जो कॉमेडियंस को जेल में डालना चाहता है इसकी परिणति यही होगी कि मसखरे उसका नेतृत्व करेंगे या फिर मसखरों का समूह.''

इस मसले पर रितेश देशमुख, से​लिना जेटली, ललित पंडित जैसे और भी कई सितारों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं.

एआईबी की ओर से अपलोड किए गए इस विवदित वीडियो को यूट्यूब ने हटा लिया है. मुंबई पुलिस ने यूट्यूब से इसके लिए अनुरोध किया था. लेकिन टाइम फॉर टैलेंट नाम के एक यूट्यूब यूजर ने इस तकरीबन दो मिनट लंबे वीडियो को फिर से अपलोड किया है.

देखें यह वीडियो और बताएं हमें, तन्मय ने किया मजाक या अपमान?