1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

डेविड हेडली को सजा अगले साल से पहले नहीं

लशकर ए तैयबा के आतंकी डेविड कोलमैन हेडली को अगले साल से पहले सजा नहीं मिलेगी. हेडली के साथी और पाकिस्तानी मूल के कनाडाई नागरिक तहव्वुर हुसैन राणा की सुनवाई पूरी होने के बाद ही उसे अंतिम सजा सुनाई जाएगी.

default

डेविड हेडली ने अमेरिकी अदालत में अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को मान लिया था. हेडली ने अमेरिकी सरकार के साथ हुए समझौते में ये माना था कि वो तहव्वुर राणा, अल कायदा से जुड़े आतंकी इलियास कश्मीरी और पाकिस्तानी सेना के रिटार्यड मेजर अब्दुर रहमान हाशिम सैयद से जुड़े आतंकी मामलों की जांच में पूरी मदद करेगा.

Anschläge am 26. November 2008 in Mumbai Indien

हेडली पर मुंबई हमलों की साजिश में शामिल होने और हमले के लिए मुंबई के ठिकानों की जानकारी लश्कर ए तैयबा तक पहुंचाने सहित कई आरोप थे. मुंबई हमलों में 166 लोगों की मौत हो गई थी. भारत की जांच टीम ने कुछ ही दिन पहले डेविड हेडली से शिकागो में पूछताछ भी की है. समझौतों में कहा गया है कि अंतिम सजा तब तक नहीं दी जाएगी जब तक हेडली का सहयोग पूरा नहीं हो जाता. कश्मीरी और सैयद तो अभी गिरफ़्तार भी नहीं हुए हैं.

राणा पर सुनवाई 1 नवंबर से शुरु होने की उम्मीद है. राणा की दलील है कि उस पर आतंकियों को बड़ी मदद देने के आरोप लगे हैं जो सही नहीं हैं. राणा फिलहाल हेडली के साथ मेट्रोपॉलिटन करेक्शनल सेंटर की फेडरल लॉकअप में बंद है.

इसी महीने भारतीय जांच अधिकारियों को मुंबई पर 26 नवंबर को हुए हमलों के सिलसिले में हेडली से सीधे पूछताछ करने की इजाजत दी गई थी. राष्ट्रीय जांच एजेंसी की एक टीम ने हेडली से करीब एक हफ़्ते तक पूछताछ की. पूछताछ में क्या जानकारी सामने आई इस पर अमेरिकी और भारतीय जांच अधिकारियों ने कोई बयान नहीं दिया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ एन रंजन

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री