1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

डेल पियेरो को टीम की तलाश

इटली के पूर्व फुटबॉलर अलेजांद्रो डेल पियेरो भले ही 39 साल के हो गए हों लेकिन वह आगे भी खेलना चाहते हैं. मुश्किल बस इतनी सी है कि कोई टीम उन्हें अपने साथ नहीं रखना चाहता है.

इटली के युवेंटस में बरसों फुटबॉल खेल चुके डेल पियेरो ने युवेंटस की तरफ से 500 से ज्यादा मैच खेले हैं और उन्हें इस क्लब के सबसे बड़े खिलाड़ियों में गिना जाता है. दो साल पहले उन्होंने ऑस्ट्रेलिया का रुख कर लिया था और सिडनी की टीम के साथ करार कर लिया. लेकिन पिछले सीजन के बाद सिडनी ने भी उनसे किनारा कर लिया है. उनका नया करार नहीं बन पाया है.

डेल पियेरो का कहना है कि वह पूरी तरह फिट महसूस कर रहे हैं और आगे भी फुटबॉल खेलते रहना चाहते हैं. लेकिन कहां और कैसे, इस सवाल का जवाब उन्हें भी मालूम नहीं. शनिवार को सिडनी की टीम युवेंटस से भिड़ने वाली है और सिडनी की कप्तानी डेल पियेरो को करनी है. जब उनसे पूछा गया कि क्या यह उनका आखिरी मैच है, तो उन्होंने जवाब दिया, "मुझे नहीं लगता. हो सकता है कि ऑस्ट्रेलिया में यह मेरा आखिरी मैच हो. हो सकता है कि सिडनी एफसी के लिए यह मेरा आखिरी मैच हो."

EM Finale 2000 Del Piero und Zidane

दो जबरदस्त नंबर 10 - इटली के डेल पियेरो और फ्रांस के जिनेदिन जिदान

डेल पियेरो का कहना कि उनके पास दो बड़े लेकिन कच्चे प्रस्ताव हैं और उन्हें अब अपने लिए सर्वश्रेष्ठ चुनना है, "यह मेरा जुनून है. मैं जानता हूं कि मैं 90 की उम्र तक अपने जुनून में डूबा रह सकता हूं. लेकिन फिलहाल मैं फिट महसूस कर रहा हूं." उन्होंने 19 साल युवेंटस के लिए खेला है और इस दौरान 513 मैचों में 208 गोल किए हैं.

युवेंटस अपनी सबसे मजबूत टीम के साथ सिडनी पहुंची है. इसमें बुफोन और टेवेस भी हैं. डेल पियेरो का कहना है, "मैं शनिवार के मैच को लेकर बहुत उत्साहित और भावुक हूं."

एजेए/एमजे (एएफपी)