1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

डेक्केन ने किया रॉयल चैलेंजर्स को चित्त

आईपीएल में डेक्केन चार्जर्स के टी सुमन और एंड्रयू साइमंड्स की जोड़ी ने शानदार खेल दिखाकर रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर को हरा दिया. अब डेक्केन को दस मैचों से आठ अंक हासिल हैं और उसके सेमीफ़ाइनल में जाने की उम्मीद जग रही है.

default

रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के ज्याक कालिस (68) और विराट कोहली (58) ने मिलकर 95 रनों का योगदान किया और डेक्केन चार्जर्स के सामने 185 रन की चुनौती रखी. लेकिन डेक्केन की पारी की शुरुआत अच्छी नहीं रही और तीसरे ही ओवर में मोनीश मिश्रा चलते बने. हालांकि कप्तान गिलक्रिस्ट और सुमन ने मिलकर 77 रन बनाए.

डेक्केन की टीम की मुश्किलें उस वक्त बढ़ गई जब गिलक्रिस्ट और रोहित शर्मा, दोनों आउट हो गए. गिलक्रिस्ट ने 19 गेंदों में 32 रन बनाए लेकिन कुंबले की गुगली पर चकरा गए और विकेट के पीछे रॉबिन उथप्पा ने मौका नहीं गंवाया और गिल्क्रिस्ट को तुरंत आउट कर दिया. इसके बाद रॉबिन शर्मा ने भी आर विनय कुमार की गेंद को इस तरह उछाल दिया कि वह सीधे डेल स्टेन के हाथों में जा गिरी. डेक्केन की मुश्किलें फिर बढ़ रही थीं.

लेकिन अगर बंगलौर की टीम इसे अपनी जीत के संकेत समझ रही थी, तो वह गलत थी, क्योंकि साइमंड्स और सुमन की जोड़ी ने मिलकर समझदारी से बल्लेबाज़ी की और डेक्केन को जीत के रास्ते पर ले आए. डेक्केन को अंतिम चार ओवरों में 49 रन बनाने थे, तभी साइमंड्स ने प्रवीण कुमार की गेंदों पर एक चौका और एक छक्का मारा. इसके बाद सुमन ने भी शानदार बैंटिंग के ज़रिए टीम के खाते में 21 रन जोड़े. साइमंड्स ने अंतिम चौके से मैच को ख़त्म किया और सात विकेट से जीत डेक्केन के नाम हुई.

डेक्केन की गेंदबाज़ी भी ठीक ठाक रही और बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा और रायन हैरिस ने टीम के लिए दो दो विकट लिए. लेकिन बंगलौर के कालिस और कोहली की साझेदारी अंतिम छह ओवरों में 92 रन बनाने में सफल रही और वे 184 रन का बड़ा स्कोर खड़ा करने में कामयाब रहे. बंगलौर को पिछले दस मैचों से दस अंक मिले हैं जबकि डेक्केन ने दस मैचों से आठ अंक हासिल किए हैं. लगातार पांच मैच हारने के बाद गुरुवार को डेक्केन ने पहली जीत दर्ज की.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्ण

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री