1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

डायनोसॉर कंकाल हुआ नीलाम

करीब 15 करोड़ साल पुराने डायनोसॉर की हड्डियों का ढांचा लंदन में नीलाम हुआ. शाकाहारी डायनोसॉर के इस लगभग पूरे साबुत कंकाल को अमेरिका में वायोमिंग के पास से निकाला गया था.

यह कंकाल एक मादा डिप्लोडोकस डायनोसॉर का है. नीलामी में इसे खरीदने वाली एक अज्ञात सार्वजनिक संस्था है, जिसने इसके लिए चार लाख अस्सी हजार यूरो चुकाए. 17 मीटर लंबे और छह मीटर ऊंचे डिप्लोडोकस के कंकाल को दक्षिण लंदन की समर्स प्लेस ऑक्शंस संस्था ने नीलाम किया.

संस्था के प्रवक्ता रूपर्ट फान डेर वेर्फ ने कहा, "यह बहुत मेहनत भरा और रोमांचक काम था, हमें खुशी है कि हम इसे अंजाम तक पहुंचा पाए." साथ ही उन्होंने कहा, "हम आपको यह तो नहीं बता सकते कि यह किसने खरीदा है लेकिन यह जल्द ही सार्वजनिक प्रदर्शनी के लिए लगाया जाएगा."

शाकाहारी डिप्लोडोकस डायनोसॉर पृथ्वी पर अब तक पाए गए सबसे बड़े जीवों में से एक है. इसकी पहचान लंबी गर्दन और दुम से होती है, कई बार इनकी आकृति देखने वाले को किसी लटके हुए पुल जैसी लग सकती है.

इत्तफाक से मिला डिप्लोडोकस

डिप्लोडोकस डायनोसॉर का यह कंकाल 2009 में अमेरिका के वायोमिंग राज्य की एक खदान में इत्तफाक से ही मिल गया था. जर्मनी के जीवाश्म विज्ञानी राइमुंड आल्बेर्सडोर्फेर ने अपने काम के दौरान बेटों बेन्यामिन और याकोब को कहीं और व्यस्त रखने के मकसद से पास की जमीन पर खुदाई के लिए भेज दिया. हालांकि उन्हें वहां से कुछ काम का मिलने की उम्मीद नहीं थी.

नौ हफ्ते बाद उनके बेटे खबर लेकर आए कि उन्हें वहां से बड़ी हड्डी मिली है. खुदाई में उन्हें "मिस्टी" मिली थी. निजी जमीन में मिलने के कारण आल्बेर्सडोएर्फेर मिस्टी को अमेरिका से बाहर ला पाए. रोटरडैम की टीम ने मिलकर इसकी सफाई की और फिर इसे इंग्लैंड लाया गया.

अब तक प्रदर्शनी के लिए लगाया जा चुका सबसे प्रसिद्ध डिप्लोडोकस लॉन्गस लंदन के नैचुरल हिस्टरी म्यूजियम में रखा "डिप्पी" है.

एसएफ/एमजी (एपी, एएफपी, डीपीए)

DW.COM

WWW-Links