1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ट्विटर पर मोदी की आसियान रिपोर्ट

बड़े सम्मेलनों की रिपोर्टिंग का एक नया आयाम सामने आ रहे है. नेता खुद सूचना और तस्वीरें दे रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी म्यांमार दौरे पर लगातार ऑनलाइन रहे. वे जिस भी नेता से मिले, अपनी तस्वीर पोस्ट करना नहीं भूले.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार आसियान में हिस्सा ले रहे हैं. वे कब किससे मिले, शिखर सम्मलेन के किस समारोह में हिस्सा लिया इन खबरों को आम जनता तक पहुंचाने के लिए वे अखबारों या न्यूज चैनलों पर निर्भर नहीं कर रहे हैं, बल्कि खुद ही अपनी तस्वीरें पोस्ट कर रहे हैं. दुनिया भर के नेताओं के साथ रात्रिभोज से पहले ली गयी इस तस्वीर में प्रधानमंत्री को अलग से पहचाना जा सकता है. इस समारोह में पारंपरिक लिबास पहनने की परंपरा है.

म्यांमार में 18 देशों के नेता जमा हुए हैं. आसियान के सरकार प्रमुखों के अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और चीन के प्रधानमंत्री ली केचियांग ने भी इसमें शिरकत किया. सम्मलेन के दौरान मोदी म्यांमार की नेता और नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित आंग सान सू ची से भी मिले. वे नई दिल्ली में रही हैं और अपनी पढ़ाई का कुथ हिस्सा वहां पूरा किया है.

इसके अलावा नरेंद्र मोदी दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्यून हे और रूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेद्वेदेव से भी मुलाकात की. मुलाकात के दौरान उन्होंने 2001 के अपने रूसी दौरे को भी याद किया और अगले महीने भारत और रूस के बीच होने वाले शिखर सम्मलेन के बारे में बात की. सम्मलेन के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भारत आएंगे.

बराक ओबामा से मोदी की कुछ देर के लिए भेंट हुई और ओबामा ने उन्हें "मैन ऑफ एक्शन" कह कर पुकारा. पिछले छह हफ्तों में यह मोदी की ओबामा से दूसरी मुलाकात है. ट्विटर पर मोदी ने लिखा है कि भारत और आसियान दोनों के ही एक जैसे लक्षय हैं, इसलिए दोनों मिल कर उन्हें पूरा भी कर सकते हैं.

आतंकवाद पर बात करते हुए मोदी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को धर्म और आतंकवाद को एक दूसरे से जोड़ कर नहीं देखना चाहिए. उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया को मिलकर आतंकी गतिविधियों के खिलाफ काम करना होगा. अपने दस दिवसीय दौरे पर मोदी म्यांमार के बाद ऑस्ट्रेलिया और फिजी जाएंगे.

DW.COM

संबंधित सामग्री