1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

ट्रेन हादसा: ममता को तोड़फ़ोड़ की आशंका

पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में हुई भीषण ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 61 तक पहुंच चुकी है. रेलमंत्री ममता बनर्जी ने इस संभावना से इंकार नहीं किया है कि यह दुर्घटना तोड़फ़ोड़ का नतीजा हो सकता है.

default

रेलमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें और वरिष्ठ अधिकारियों को इस सिलसिले में कुछ संदेह है. दो माह पहले पटरी से सरकने की वजह से हुई दुर्घटना में 145 लोगों की मौत हो गई थी, जिसके लिए माओवादियों को ज़िम्मेदार ठहराया गया था.

रेलवे के प्रवक्ता समीर गोस्वामी ने कहा है कि राहतकर्मी अभी तक दुर्घटना के मलबे से 56 लाशें निकाल सके हैं. आशंका है कि मृतकों की संख्या में अभी और वृद्धि होने वाली है. गोस्वामी के अनुसार लगभग सौ लोग घायल हुए हैं. जीआरपी सूत्रों के अनुसार घायलों की संख्या 150 के आसपास हो सकती है.

अब तक प्राप्त सूचनाओं के अनुसार उत्तरबंग एक्स्प्रेस सांइथिया स्टेशन से निकल रही बनांचल एक्सप्रेस से टकरा जाने के कारण यह दुर्घटना हुई. दोनों गाड़ियां एक ही पटरी पर थीं. स्थानीय रेल ट्रैफिक मैनेजर सुनील बनर्जी ने बताया कि मरने वालों में ज्यादातर लोग बिना रिजर्वेशन की बोगियों में सफर कर रहे थे. इसलिए उनके नाम और पतों की जानकारी नहीं मिल पाई है.

वनांचल एक्सप्रेस के तीन डिब्बे पूरी तरह से ध्वस्त हो चुके हैं. इनमें से दो बिना रिज़र्वेशन डिब्बे थे और एक लगेज वैन. रेलमंत्री ममता बनर्जी घटनास्थल के लिए रवाना हो चुकी हैं. इस बीच रामपुरहाट, आसानसोल और बर्दवान से राहत ट्रेनें रवाना हो चुकी हैं. अधिकारियों के अनुसार अप लाईन खुली हुई है, और अभी तक कोई ट्रेन रद्द नहीं की गई है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: एस गौड़