1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

ट्राई सीरीज में जीत के इरादे से उतरेगा भारत

भारत, न्यूजीलैंड और श्रीलंका के बीच त्रिकोणीय श्रृंखला आज से. दांबुला में आज न्यूजीलैंड से भिड़ेगी टीम इंडिया. वनडे रैंकिंग में दूसरे स्थान पर बने रहने के लिए भारत को यह मैच हर हाल में जीतना होगा.

default

न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत हासिल कर टीम इंडिया वनडे रैंकिंग में नंबर दो पर दमदार तरीके बरकरार रहेगी. हार हुई तो कीवी टीम उसे धकेलकर दूसरे नंबर पर आ जाएगी. वनडे रैंकिंग में फिलहाल भारत के 118 अंक हैं. जीतने पर उसे सात अंक और मिल जाएंगे. वहीं न्यूजीलैंड 114 प्वाइंट्स के साथ तीसरे स्थान पर है, जीत से उसे भी सात अंक हासिल होंगे.

मैच डे-नाइट हैं और दांबुला का विकेट तेज गेंदबाजों की मदद करता है, ऐसे में टॉस की भूमिका अहम होगी. दाबुंला में दूधिया रोशनी में लक्ष्य का पीछा करने वाली टीमें अक्सर हार का सामना करती हैं.

Virender Sehwag

वीरू से विस्फोट की उम्मीद

क्रिकेट पंडित भारत का पलड़ा भारी मान रहे हैं. वीरेंद्र सहवाग और सुरेश रैना जैसे खिलाड़ी फॉर्म में हैं. आशीष नेहरा की वापसी से गेंदबाजी को धार मिली है. श्रीलंका में टेस्ट सीरीज खेलने के वजह से भारत को विकेट की समझ भी है. जानकारों का कहना है कि टीम इंडिया को अनुभवी सलामी बल्लेबाजों का फायदा मिलेगा. आज वीरेंद्र सहवाग के साथ पारी शुरुआत रविचंद्रन अश्विन, विराट कोहली या दिनेश कार्तिक करेंगे.

वहीं न्यूजीलैंड के सामने मुश्किलें कुछ ज्यादा है. कप्तान और शानदार स्पिनर डेनियल विटोरी के घायल होने से रॉस टेलर को टीम की बागडोर सौंपी गई है. टीम के पास अच्छे तेज गेंदबाज तो हैं लेकिन बल्लेबाजी में अनुभव की कमी है. अगर विकेट से मदद मिली तो भारतीय स्पिनर रवींद्र जडेजा, वीरेंद्र सहवाग, सुरेश रैना और प्रज्ञान ओझा कीवी खिलाड़ियों की नाक में दम कर सकते हैं. ऐसे में न्यूजीलैंड को टेलर, स्टाइरिश और मैक्कुलम से काफी उम्मीदें रहेंगी.

अब तक मैच खेलने वाले आखिरी 11 खिलाड़ियों का एलान नहीं हुआ है. लेकिन भारत की ओर से सहवाग, धोनी, कोहली, रैना, रोहित शर्मा का खेलना तय माना जा रहा है. गेंदबाजों में आशीष नेहरा, प्रज्ञान ओझा और रवींद्र जडेजा को मौका मिलने की संभावना है. ईशांत शर्मा, मिथुन और प्रवीण कुमार, इन तीनों में से किन्हीं दो को मौका मिल सकता है. युवराज सिंह अगर फिट रहते हैं तो वह भारतीय टीम के मध्यक्रम की जान साबित हो सकते हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: ए कुमार