1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ट्रंप ने रूस से कहा, आओ हैक करो!

अमेरिकी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप एक बार फिर अपने बयान को ले कर चर्चा में हैं. इस बार तो उन्होंने रूस से क्लिंटन के ईमेल अकाउंट को हैक करने को ही कह डाला.

डॉनल्ड ट्रंप के इस बयान की रिपब्लिकन और डेमोक्रैट दोनों ही निंदा कर रहे हैं. रूस पर बात करते हुए उन्होंने कह दिया, "रूस, अगर तुम सुन रहे हो, मैं उम्मीद करता हूं कि तुम उन 30,000 ईमेलों का पता लगा सकोगे, जो फिलहाल गायब हैं." ट्रंप का इशारा हिलेरी क्लिंटन की ओर था, जो लंबे समय से अपने सरकारी ईमेल अकाउंट का दुरुपयोग करने के लिए सुर्खियों में बनी रही हैं.

हालांकि एफबीआई ने कुछ वक्त पहले उन्हें क्लीन चिट देते हुए कहा कि क्लिंटन ने विदेश मंत्री रहते हुए ईमेल के इस्तेमाल में "लापरवाही" दिखाई थी लेकिन ट्रंप ने लगातार इसे चुनाव का मुद्दा बना कर रखा है.

ट्रंप की इस बार निंदा हो रही है कि उन्होंने बगैर सोचे समझे किसी दूसरे देश को अपने ही देश में हैकिंग करने का न्योता दे दिया है. हालांकि रूस ने इस पर कहा है कि वह किसी भी देश के आंतरिक मामलों में दखल नहीं देना चाहता. इसके अलावा ट्रंप ने यह भी कहा कि वह जानते हैं पुतिन मौजूदा राष्ट्रपति यानी ओबामा को बिलकुल पसंद नहीं करते लेकिन उन्हें उम्मीद है कि पुतिन उन्हें जरूर पसंद करेंगे.

DW.COM

संबंधित सामग्री