1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ट्रंप के विरोध में सड़कों पर निकले हजारों अमेरिकी लोग

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लकिन उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप की जीत के खिलाफ कई शहरों में प्रदर्शन हुए हैं. प्रदर्शनकारी प्रवासी, मुसलमान और अन्य समूहों के खिलाफ ट्रंप के बयानों के विरोध में सड़कों पर उतरे हैं.

न्यूयॉर्क के मैनहटन इलाके में हजारों लोगों ने विरोध जताया और ट्रंप टावर की तरफ मार्च किया. वहीं मैनहटन पार्क में सैड़कों लोगों ने ट्रंप के खिलाफ जम कर नारे लगाए, "वो मेरे राष्ट्रपति नहीं हैं." वहीं कैलिफॉर्निया के ऑकलैंड में लगभग छह हजार लोगों ने ट्रैफिक को जाम किया. लोगों ने सड़कों पर कूड़ा जलाया और पुलिस पर कई तरह की चीजें फेंकीं. इस दौरान कुछ दुकानों की खिड़कियां भी तोड़ दी गईं. चश्मदीदों के मुताबिक पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए मिर्च वाले स्प्रे इस्तेमाल किया.

वहीं शिकागो में ट्रंप इंटरनेशनल होटल के सामने लगभग दो हजार लोग जमा हुए और उन्होंने "नो ट्रंप" के नारे लगाए. प्रदर्शनकारियों ने ट्रंप को नस्लवादी बताया. शिकागो में एक 22 वर्षीय प्रदर्शनकारी एड्रियाना रिजो ने कहा, "इस देश में जो हो रहा है, मुझे तो उससे डर लग रहा है."

ट्रंप के बाद ये थी लोगों की प्रतिक्रिया, देखिए

उधर, सिएटल में पुलिस को ट्रंप विरोधी प्रदर्शनों के करीब गोलीबारी की एक घटना का पता चला. हालांकि पुलिस का कहना है कि इसका प्रदर्शनों से कोई लेना देना नहीं है. इस गोलीबारी में कई लोगों को चोटें आई हैं.

इसके अलावा फिलाडेल्फिया, बोस्टन, पोर्टलैंड और ओरेगन से भी प्रदर्शनों की खबरें हैं. पुलिस का कहना है कि टेक्सस की राजधानी ऑस्टिन में भी लगभग चार सौ लोगों ने सड़कों पर ट्रंप के विरोध में मार्च किया. बताया जाता है कि सैन फ्रांसिस्को, लॉस एंजेलेस और ऑकलैंड में और प्रदर्शन होने वाले हैं. प्रदर्शनकारी प्रवासियों को रोकने के लिए मेक्सिको की सीमा पर दीवार लगाने वाले ट्रंप के बयान का विरोध कर रहे हैं.

लॉस एंजलेस में प्रदर्शनकारियों ने सिटी हॉल के बाहर ट्रंप की शक्ल जैसा दिखने वाला एक बॉक्स जलाया. प्रदर्शनों में शामिल ईथन मिलर ने कहा, "ये अमेरिका के लिए मुश्किल समय है. हमने ऐसा चुनाव प्रचार देखा जो नस्लवाद और महिला विरोधी बातों से भरा था और इनका इस्तेमाल चुनाव जीतने के लिए किया गया.” उन्होंने कहा, "लेकिन हम ट्रंप की प्रेजीडेंसी को इस देश में हुई प्रगति बर्बाद नहीं करने देंगे.”

बुधवार को आए चुनाव नतीजों में पूरी दुनिया को हैरान करते हुए ट्रंप ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया. जीत के बाद उन्होंने अमेरिकी समाज को एकजुट करने पर जोर दिया है. लेकिन उनके बयान और विवादास्पद छवि को देखते हुए उनकी जीत को लेकर बहुत से लोगों में कई तरह की शंकाएं हैं.

एके/वीके (रॉयटर्स, एएफपी)

इनके नक्शे कदमों पर चल रहे हैं ट्रंप, देखिए

DW.COM

संबंधित सामग्री