1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

टोरंटो फिल्म फेस्टिवल में 'द कॉन्सपीरेटर'

अमेरिका में 9/11 की बरसी, ग्राउंड जीरो के पास बनने वाली इस्लामी सेंटर को लेकर बंटा हुआ अमेरिका और टोरंटो फिल्म फेस्टिवल. इन सबके बीच खड़ी है फिल्म द कॉन्सपीरेटर. शनिवार को टोरंटो फिल्म फेस्टिवल की शुरुआत इस फिल्म से हुई.

default

रॉबर्ट रेडफोर्ड

यह फिल्म अमेरिका के महान राष्ट्रपतियों में शुमार अब्राहम लिंकन के कत्ल पर आधारित है. फिल्म के डायरेक्टर रॉबर्ट रेडफोर्ड ने इस मौके पर कहा कि अब्राहम लिंकन के कत्ल के डेढ़ सौ सालों बाद अमेरिका ठीक उसी तरह बंटा हुआ है. उन्होंने कहा, "इतिहास गलतियों की एक श्रृंखला है. हम बार बार खुद को दोहराते रहते हैं. आज हम भ्रम की एक स्थिति में जी रहे हैं, जिसमें तनाव और डर भी शामिल हैं. ऐसा ही कुछ 150 साल पहले भी था."

फिल्म द कॉन्सपीरेटर के साथ रेडफोर्ड स्वतंत्र फिल्मकारी की ओर लौटे हैं. इस फिल्म में उन्होंने उस महिला की कहानी बताई है जिसे 1865 में लिंकन की हत्या में आरोपी बनाया गया. वह कहते हैं, "अब इस कहानी को बताने के पीछे खास बात यह है कि यह कल और आज के बीच समानांतर बिंदुओं को पेश करती है. लेकिन हम यह कहानी नहीं सुनाना चाहते. हम तो और ज्यादा मानवीय और निजी कहानी सुनाना चाहते हैं. लेकिन फिर मैं सोचता हूं कि क्या देखने वाले खुद इसमें वे समानांतर बिंदू खोज पाएंगे? क्योंकि वे बिंदू तो खुद इतिहास ने दिए हैं, हमें ऐसा करने की जरूरत ही नहीं."

इस फिल्म की स्क्रिप्ट जेम्स सोलोमन ने लिखी है. वह कहते हैं कि उनके हाथ 15 अप्रैल 1865 को लिंकन की हत्या के बाद चले मुकदमे की एक प्रतिलिपी लगी. इसे पढ़ने के बाद ही उन्होंने द कॉन्सपीरेटर लिखी. इस फिल्म में रॉबिन राइट ने जॉन सुराट की मां मैरी स्कॉट का किरदार निभाया है. सुराट पर लिंकन के हत्यारे जॉन विक्लिस बूथ का साथ देने का संदेह था. केविन क्लाइन ने लिंकन के युद्ध मंत्री एडविन स्टैंटन की भूमिका अदा की है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links