1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

टॉफी खाने से खुशबू देगा बदन

पसीने की गंध को दूर करने के लिए लोग डियोडरेंट लगाते हैं. ज्यादातर लोग नहाने के बाद तरह तरह की खुशबू का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन एक बुल्गारियाई उद्योगपति ने खाने वाला डियोडरेंट बनाया है.

टॉफी बनाने वाली बुल्गारिया की एक कंपनी ने ऐसी टॉफी तैयार की है कि जिसे खाने के बाद डियोडरेंट की जरूरत नहीं है. बुल्गारिया की छोटी से कंपनी एल्पी के मालिक वेन्तसीस्लाव पायचेव कहते हैं, "एक पुरानी कहावत है कि असली सुंदरता अंदर से आती है, तो क्यों न टॉफी से आए.''
उनका कहना है कि डियो परफ्यूम कैंडी शरीर की गंध को बेअसर कर सकती है और इसको खाने के बाद शरीर से छह घंटे तक मीठी खुशबू आती रहेगी. हालांकि यह टॉफी की मात्रा पर निर्भर करेगा और इस पर भी खाने वाले की कद काठी कैसी है.
यह कैंडी मूल रूप से बॉनबॉन्स की तरह होती है यानि सख्त या चबाने लायक. खास बात यह है कि कैंडी शुगर फ्री भी उपलब्ध है. यह टॉफी जापानी वैज्ञानिक के रिसर्च पर बनाई गई है. वैज्ञानिक के शोध में पाया गया कि रोज ऑयल का प्रमुख तत्व जेरानॉल शरीर द्वारा विखंडित नहीं होता और त्वचा के माध्यम से शरीर से बाहर आता है.
बुल्गारिया यूरोपीय संघ के सबसे गरीब देशों में है और यह गुलाब के तेल का प्रमुख उत्पादक है. पायचेव कहते हैं, "जेरानॉल का बर्ताव लहसुन से बिलकुल उलट है. यह भी छिद्रों से बाहर आता है लेकिन खराब गंध की जगह शरीर को खुशबूदार बनाता है."
कैंडी तैयार करने में एल्पी कंपनी की मदद करने वाले प्रोफेसर दिमितार हाजीकिनोव के मुताबिक, "यह मात्रा छह घंटे तक चलने वाली खुशबू के लिए पर्याप्त है. यह ग्राहक के शरीर के द्रव्यमान पर भी निर्भर करता है. अगर कोई भारी भरकम है तो ज्यादा कैंडी खाए. दो, तीन या चार"
हाजीकिनोव के मुताबिक इसका असर जल्दी होता है. यह नरम और शुगर फ्री कैंडी है. यह आसानी से मुंह में घुल जाती है. और इसकी सभी सामग्री प्राकृतिक हैं तो ज्यादा खाने पर खराब लगने की जरूरत नहीं.
यह कैंडी अमेरिका, एशिया और यूरोप के कई देशों में बिकने लगी है और एक पैकेट की कीमत करीब पांच यूरो है. सूत्रों के अनुसार यह कोई नया आविष्कार नहीं. इससे पहले जापान में इसी तरह की च्यूइंग गम उपलब्ध थी लेकिन अब कंपनी ने उसका उत्पादन बंद कर दिया.
55 साल के पायचेव की कंपनी बुल्गारिया के छोटे से आसेनोवग्राद शहर में है, जहां 40 कर्मचारी हैं. पिछले साल इसने 500 टन टॉफी तैयार किया और करीब 20 लाख यूरो की कमाई की. भले ही टॉफी से शरीर खुशबूदार बने या न बने, मुनाफा तो खुशबू जरूर बिखेर रहा है.
एए/एजेए (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री