1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

टी 20 वर्ल्डकपः भारत की शानदार शुरुआत

टी 20 वर्ल्ड कप के ग्रुप सी में अफ़ग़ानिस्तान को भारत ने सात विकेट से हरा दिया है. 116 रनों का लक्ष्य भारत ने 15 ओवर में ही पूरा कर लिया. मुरली विजय ने 48, धोनी और युवराज सिंह ने नाबाद 23 और 15 रन बनाए.

default

भारत ने टॉस जीतते हुए फील्डिंग करने का फैसला लिया. भारत के गेंदबाज़ों ने अफ़ग़ानिस्तान को 115 रनों पर रोक दिया. अफ़ग़ानिस्तान के नूर अली ने 50 रनों का योगदान दिया और असग़र स्तानिकज़ई ने 30 रन बनाए. अफ़ग़ानिस्तान की गति रोकने के लिए भारत के गेंदबाज़ों ने अच्छा प्रदर्शन किया और आशीष नेहरा ने तीन विकेट लिए. उनकी गेंदों पर धोनी ने अली, शहज़ाद और करीम सादिक़ को लपका. अफ़ग़ानिस्तान की तरफ़ से नूर अली और स्तानिक़ज़ई के अलावा और कोई खिलाड़ी नहीं टिका.

115 रनों के जवाब में बल्लेबाज़ी करते हुए भारत के ओपनर मुरली विजय ने 48 रन बनाए. गौतम गंभीर चार रनों पर ही आउट हुए जबकि सुरेश रैना 18 रन बनाकर.

अफ़ग़ानिस्तान के अधिकतर क्रिकेटरों ने पाकिस्तान में क्रिकेट सीखा है. शनिवार को हुए ग्रुप सी के इस मैच में भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने तुरंत नोटिस किया कि शॉर्ट पिच की गेंदें अफ़ग़ानी खिलाड़ियों के लिए मुश्किल पैदा कर रहीं हैं और इस पर तुरंत फैसला लेते हुए उन्होंने इसी तरह की गेंदे डाली और इसी कारण आठ में पाँच विकेट अफ़ग़ानिस्तान के गिरे.

इस जीत के साथ टी ट्वेंटी में भारत का आग़ाज़ अच्छे से हुआ है. रविवार को भारत और दक्षिण अफ्रीका आमने सामने होंगे. पहले मैच में दक्षिण अफ़्रीका ने भी शानदार शुरुआत करते हुए आयरलैंड को 70 रन से हराया. वेस्ट इंडीज़ ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए नौ विकेट खोकर 138 रन बनाए. क्रिस गेल की ग़ैरमौजूदगी में ब्रावो ने टीम की कमान संभाली. आयरलैंड जैसी कमज़ोर मानी जाने वाली टीम के खिलाफ़ कैरेबियाई बल्लेबाज़ फ्लेत्चर 19, चंद्रपॉल 14, ब्रावो 18 और सरवन 24 रन से बना सके. अंत में आए पोलार्ड भी आठ रन ही जोड़ सके. सैमी ने सबसे ज़्यादा 30 रन बनाए. जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी आयरिश टीम 17 ओवर भी पूरे न खेल सकी और 68 रन पर ऑल आउट हो गई. वेस्ट इंडीज़ ने 19 रन अतिरिक्त दिए. सैमी और रामपाउल ने तीन तीन विकेट झटके. दो विकेट ब्रावो को मिले. आयरलैंड की ओर से सिर्फ़ एक ही खिलाड़ी दहाई का अंक छू सका. गैरी विल्सन ने अपनी टीम के लिए सबसे ज़्यादा 17 रन बनाए. कैरेबियाई ऑलराउंडर डेरेन सैमी को मैन ऑफ़ द मैच के पुरस्कार से नवाज़ा गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा मोंढे

संपादनः एम गोपालकृष्णन

संबंधित सामग्री