1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

टीम पर बोझ हैं कई खिलाड़ी: अफरीदी

शाहिद अफरीदी ने पाकिस्तान क्रिकेट में नई बहस छेड़ी. अफरीदी ने कहा, हमारे कई खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट नहीं खेल पाते हैं लेकिन फिर भी वह टीम पर बोझ बने हुए हैं. साथी खिलाड़ियों से कहा, जबरदस्ती क्यों खेल रहे हो टेस्ट मैच.

default

कुछ ही दिनों पहले टेस्ट मैचों से संन्यास लेने वाले पाकिस्तान के कप्तान शाहिद अफरीदी ने पीसीबी के सामने नया विवाद परोस दिया है. उनका कहना है कि कुछ खिलाड़ी पता नहीं क्यों, जबरदस्ती टेस्ट मैच खेले जा रहे हैं. अपने संन्यास का जिक्र करते हुए अफरीदी ने कहा, ''संन्यास का फैसला मेरा अपना निर्णय था. मैंने किसी से सलाह मशविरा नहीं किया.'' अफरीदी ने ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद 16 जुलाई को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया.

अफरीदी चाहते हैं कि ऐसा ही दूसरे खिलाड़ी भी करें. पूर्व टेस्ट कप्तान ने कहा, ''जो खिलाड़ी टेस्ट मैच खेलने में सहज नहीं हैं, मैं उन सभी को सलाह दूंगा कि टीम पर बोझ न बनें. अपना ध्यान वनडे और टी-20 क्रिकेट पर लगाएं.''

Mohammad Yusuf

यूसुफ की वापसी तय

तूफानी ऑलराउंडर अफरीदी अब टीम के टेस्ट खेलने की क्षमता पर भी सवाल उठा रहे हैं. उनका कहना है कि पाकिस्तान की टेस्ट टीम में बड़े बदलाव करने की जरूरत है. उन्होंने कहा, ''बतौर कप्तान मैं कुछ खिलाड़ियों से कहूंगा कि वह टेस्ट न खेलें. अपने खेल और टीम के साथ न्याय करें.'' अफरीदी ने पीसीबी से भी बदलावों के लिए कदम उठाने की मांग की है. उन्होंने कहा, ''अब समय आ गया है कि यह तय किया जाए कि कौन टेस्ट खेलेगा, कौन वनडे और टी-20.''

पाकिस्तानी टीम में अब भी फूट पड़ी हुई है. इसकी तरफ इशारा करते हुए शाहिद ने कहा, ''मैं सभी से कहूंगा कि वह इस टीम से ज्यादा उम्मीदें न लगाएं. अब थोड़ा वक्त लगेगा. सलमान बट को कप्तान बनाया गया है. उन्हें कोच की बातों पर अमल करते हुए टीम में एकता बनाए रखनी है. इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया से ज्यादा कड़ी टीम है. इंग्लैंड इस वक्त शानदार क्रिकेट खेल रहा है.''

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: उभ

DW.COM

WWW-Links