1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

टाटा एमडी की मौत हत्या नहीं

थाइलैंड की राजधानी में एक गगनचुंबी होटल से गिर जाने की वजह से टाटा मोटर्स के प्रबंध निदेशक कार्ल स्लिम की मौत हो गई. हालांकि पुलिस का कहना है कि यह मामला हत्या का नहीं है.

रविवार की सुबह बैंकॉक के शांगरीला होटल की 22वीं मंजिल से स्लिम अचानक गिर गए. इसके फौरन बाद उनकी मौत हो गई. पुलिस लेफ्टिनेंट सोमयोत बुनयाकेयोव का कहना है, "हम इस मामले में हत्या की संभावना को खारिज कर सकते हैं. हम फिलहाल उनकी मौत के कारणों की जांच कर रहे हैं." स्लिम अपनी पत्नी के साथ 24 जनवरी को होटल आए थे और तय कार्यक्रम के मुताबिक उन्हें रविवार को ही होटल छोड़ना था.

3 पन्ने की चिट्ठी

होटल कर्मचारियों को उनका शव चौथी मंजिल पर मिला, जो दूसरी मंजिलों से थोड़ा आगे निकला हुआ है. बुनयाकेयोव का कहना है, "हमें सिर्फ एक खिड़की खुली मिली, लेकिन वह इतनी छोटी है कि वह इसमें नहीं जा सकते. वह लंबे चौड़े कद काठी के थे और वहां तक पहुंचने के लिए उन्हें मेहनत करनी होती. हमारी शुरुआती जांच के हिसाब से वे खुद कूदे होंगे." पुलिस को तीन पन्नों का नोट भी मिला है, जिसका थाई भाषा में अनुवाद किया जा रहा है.

थाई पुलिस ने बताया कि रविवार को सुबह पौने आठ बजे हुए इस हादसे के बाद स्लिम की पत्नी को जगाया गया, जो वहीं सो रही थीं. जब उन्हें बताया गया कि क्या हुआ है, तो वह हैरान रह गईं.

टाटा मोटर्स की प्रवक्ता मिनारी शाह ने बताया कि थाई पुलिस ने उन्हें इस बात की जानकारी दी कि सोमवार को स्लिम का पोस्टमार्टम हो रहा है. उन्होंने मौत की वजहों पर किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया, "हमें इस त्रासदी के बारे में इससे ज्यादा कोई जानकारी नहीं है. हम वहां के अधिकारियों के लगातार संपर्क में बने हुए हैं."

कंपनी को नुकसान

टाटा मोटर्स की सहायक कंपनियों की एक बड़ी बैठक में हिस्सा लेने बैंकॉक गए 51 साल के स्लिम ब्रिटिश नागरिक थे. वे 2012 में टाटा से जुड़े थे. टाटा मोटर्स का कहना है, "वे भारत में कंपनी की स्थिति को बेहतर करने की कोशिश कर रहे थे." टाटा ने पिछले 15 साल में कोई जबरदस्त कार नहीं दी है. दुनिया भर में नाम कमाने वाली सबसे सस्ती कार टाटा नैनो बुरी तरह फ्लॉप रही है.

कारों के जानकार यारेश कोठारी का कहना है कि स्लिम की मौत कंपनी के लिए बड़ा झटका है, "टाटा मोटर्स अपने बिजनेस में बड़ा बदलाव कर रही थी और इस काम के बीच में ही थी. स्लिम की पहल पर भारत के प्रतिद्वंद्वी बाजार में वह जगह बनाने की कोशिश कर रही थी. उनके जाने के बाद कंपनी में नेतृत्व का अभाव हो जाएगा." भारत में आर्थिक मंदी की वजह से अक्टूबर तक यात्री कारों की बिक्री में भारी कमी का पूर्वानुमान है.

टाटा मोटर्स भारत में सबसे ज्यादा गाड़ियां बनाने वाली कंपनी है. यह टाटा सन्स लिमिटेड ग्रुप की शाखा है. टाटा स्टील, होटल, चाय, बिजली और टेलीकॉम के बिजनेस में है. स्लिम ने भारत के अलावा दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका, थाइलैंड, इंडोनेशिया और स्पेन में भी काम कर चुके हैं.

एजेए/एमजे (रॉयटर्स, डीपीए, पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री