1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

टर्बोनेटर के आगे सब बल्लेबाज पस्त

सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़, वीरेंद्र सहवाग...ये वे नाम हैं जिनसे दुनिया भर के गेंदबाज घबराते हैं. लेकिन मौजूदा सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले के आगे आमतौर पर बल्लेबाज नहीं लिखा जाता. वह स्पिनर है.

default

भज्जी ने कमाल कर दिया

गेंदबाज हरभजन सिंह ने अब तक इस सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं. दो शतकों के साथ.

कहां तो पांच रन की लीड के बाद सिर्फ दो विकेट हाथ में लिए भारतीय टीम सोच रही थी कि अब क्या होगा और फिर ये हुआ कि 122 रन की लीड के साथ 472 पर उसकी पहली पारी खत्म हुई. आखिरी विकेट के लिए 100 रन बने.

यह हरभजन सिंह का ही कमाल है कि न्यूजीलैंड को दूसरी पारी में जब भारतीय गेंदबाजों का सामना करना हुआ, तो उसके सामने खतरा हार का भी खड़ा है. हरभजन सिंह ने अपने करियर की दूसरी सेंचुरी बनाई. सिर्फ 105 गेंदों में भज्जी ने 100 रन पूरे किए. वनडे के अंदाज में खेली गई इस पारी में सात चौके और छह छक्के शामिल हैं. टर्बोनेटर की पारी को विराम 111 रन पर तब लगा जब उनके साथ दूसरे छोर पर खड़े श्रीसंत की साहस से भरी 24 रन की पारी खत्म हुई. डेनियल वेटोरी की गेंद पर आउट होने से पहले श्रीसंत ने 71 गेंदें खेलकर हरभजन की सेंचुरी और भारत की सम्मानजनक लीड के लिए रास्ता बनाने का महत्वपूर्ण काम पूरा किया.

हरभजन सिंह दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज हैं जिन्होंने आठवें नंबर पर खेलते हुए दो लगातार शतक लगाए हैं. अपनी सेंचुरी पूरी करने के बाद हरभजन सिंह ने आसमान की तरफ देखा और अपना बल्ला लहराकर तालियों से गूंजते स्टेडियम का अभिवादन किया.

अब भारत के जवाब में अपनी दूसरी पारी खेलने उतरे न्यूजीलैंड के बल्लेबाज बहुत धीमे खेल रहे हैं. वे जीतने के बारे में कम ही सोच रहे होंगे. लंच के बाद टी मैकिंटोश और ब्रेंडन मैकुलम ने 50 का आंकड़ा पार कराया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links