1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

'झप्पी और पप्पी' मामले में संजय के खिलाफ वारंट

उत्तर प्रदेश की एक जिला अदालत बॉलीवुड अभिनेता संजय के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया. लोकसभा चुनावों के दौरान उन्होंने यूपी की मुख्यमंत्री मायावती को झप्पी देने की बात कही थी. यही झप्पी अब बॉलीवुड के मुन्ना पर आन पड़ी है.

default

संजय दत्त बाराबंकी की अदालत की तारीख पर गैरहाजिर रहे, जिसके चलते उनके खिलाफ वारंट जारी कर दिया गया. संजय दत्त पर मायावती के खिलाफ अपमानजनक भाषा का प्रयोग करने आरोप है. बुधवार को अदालत ने उनके खिलाफ 10 हजार रुपये के जमानती वारंट जारी किया.

बीते साल लोकसभा चुनावों के वक्त संजय दत्त समाजवादी पार्टी से जुड़े. अमर सिंह के सौजन्य से पार्टी में आए संजय दत्त को मुलायम सिंह ने तुरंत महासचिव बना दिया. फिर संजय दत्त चुनाव प्रचार में भी कूदे. लेकिन दो रैलियों के दौरान उन्होंने यह कह डाला कि वह मुख्यमंत्री को ''जादू की झप्पी और पप्पी'' देंगे. इससे नाराज बीएसपी नेताओं ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी.

बहरहाल अब अदालत की अगली तारीख 15 जनवरी तय की गई है. मुंबई के पुलिस कमिश्नर को आदेश दिया गया है कि वह राजनीति छोड़ चुके संजय दत्त के खिलाफ वारंट जारी करें.

रिपोर्ट: पीटीआई/ओ सिंह

संपादन: आभा एम

DW.COM

WWW-Links