1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जेल से छूटना है तो किडनी दान करो

महज 11 डॉलर लूटने के लिए 16 साल से मिसिसिपी की एक महिला जेल में है और जल्द रिहाई के लिए उसके सामने अपनी किडनी बहन को देने की शर्त रखी गई है. जेमी और ग्लैडी स्कॉट की जल्द रिहाई के लिए नागरिक संगठन जोर लगा रहे हैं.

default

जेमी और ग्लैडी स्कॉट का मामला अफ्रीकी अमेरिकी दुनिया में भारी सजा पाने की मिसाल बन गई हैं. दोनों बहनों का दावा है कि उन्हें गलत तरीके से दोषी ठहराया गया और जुर्म में केवल सहयोगी होने के बावजूद उन्हें उम्र कैद की सजा सुना दी गई. इसके साथ ही ये शर्त भी रखी गई कि 2014 से पहले उन्हें पैरोल पर भी रिहाई नहीं मिलेगी.

जिन लोगों ने 1993 में हथियारों के बल पर ये लूटपाट की थी उन्हें केवल दो साल के लिए जेल में डाला गया. मिसिसीपी के गवर्नर हाले बार्बर ने बुधवार को इन दोनों बहनों की सजा निलंबित कर दी. बार्बर ने अपने बयान में कहा, "इन लोगों को जेल में रखना जनता की सुरक्षा के लिए जरूरी नहीं है, और जेमी स्कॉट की सेहत अच्छी नहीं है ऐसे में उसके इलाज पर सरकार को काफी पैसा खर्च करना पड़ रहा है.ग्लैडी स्कॉट की रिहाई के लिए एक शर्त है कि वो अपनी एक किडनी दान कर दे, इस प्रक्रिया को तुरंत किया जाना बेहद जरूरी है."

ग्लैडी स्कॉट ने पहले ही अपनी एक किडनी बहन को दान करने का एलान कर दिया है. जेमी को नियमित रूप से डायलिसिस पर रखा गया है.नागरिक अधिकारों के लिए काम करने वाले संगठन एनएएसीपी ने गवर्नर हाले बार्बर के फैसले पर खुशी जताई है और इसे एक 'सही और साहसभरा फैसला' करार दिया है. एनएएसीपी का कहना है कि ये इस मामले से हमारे अपराध न्याय तंत्र में मौजूद पक्षपात सामने आया.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ओ सिंह

WWW-Links