1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जुल्करनैन हैदर ने की संन्यास की घोषणा

पाकिस्तानी विकेटकीपर जुल्करनैन हैदर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है. सोमवार को वह मैच से ठीक पहले गायब हो गए. हैदर के मुताबिक मैच फिक्सिंग की साजिश नाकाम करने के लिए उन्हें धमकियां मिल रही हैं.

default

लंदन पहुंचे हैदर ने पाकिस्तान के जियो टीवी के साथ बातचीत में कहा, "मैंने फैसला कर लिया है कि मेरे लिए सबसे अच्छा यही होगा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लूं. मुझे बराबर धमकियां मिल रही हैं. अच्छा है कि मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट छोड़ दूं."

हैदर ब्रिटेन में राजनीति शरण के लिए आवेदन करेंगे. वह दुबई में सोमवार को दक्षिण अफ्रीका के साथ पाकिस्तान के पांचवें वनडे मैच से पहले अचानक गायब हो गए. वह लंदन पहुंचे और जियो टीवी को दिए इंटरव्यू में हैदर ने बताया कि उन्होंने इमिग्रेशन अधिकारियों से अपने मामले पर बात की है और नियमों के मुताबिक उन्हें पूरी प्रक्रिया से गुजरना होगा.

हैदर अभी उस व्यक्ति का नाम नहीं बता रहे हैं जिसने उन्हें धमकी दी. उनका कहना है, "एक व्यक्ति ने मुझसे संपर्क कर चौथे और पांचवें मैच को फिक्स करने को कहा. साथ ही यह भी कहा कि अगर मैंने ऐसा नहीं किया तो मुझे दिक्कतों का सामना करना होगा." बताया जाता है कि यह धमकी शुक्रवार तो तब दी गई जब उन्होंने चौथे वनडे में निर्णायक रन बना कर अपनी टीम को जीत दिलाई. इसकी बदौलत पाकिस्तान ने सीरीज को 2-2 से बराबर कर वापसी की. हालांकि सोमवार को पांचवां मैच जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज 3-2 से जीत ली.

हैदर ने पांचवें और आखिर वनडे मैच से कुछ घंटों से पहले होटल छोड़ दिया. 24 साल के हैदर का कहना है कि उन्हें टीम को छोड़ने का कोई अफसोस नहीं है. वह कते हैं, "मुझे जो सही लगा, मैंने किया. अभी ज्यादा नहीं बता सकता. लेकिन यह सच्चाई है कि मैं क्रिकेट सीरीज या अपने देश के खिलाफ किसी भ्रष्टाचार का हिस्सा नहीं बनूंगा."

हैदर का कहना है कि उन्होंने लंदन जाने का फैसला इसलिए किया क्योंकि वहां वह खुद को सुरक्षित महसूस करते हैं और ब्रिटिश कानून उन लोगों की मदद करता है जो सही हैं.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुताबिक हैदर ने होटल छोड़ने की अपनी योजना के बारे में नहीं बताया और न ही अपने इस अचानक किए गए फैसले के बारे में कोई जानकारी दी. पीसीबी ने एक बयान में कहा, "इस घटना से जुड़ी परिस्तिथियों की पूरी तरह जांच की जाएगी." जाने से पहले हैदर ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि वह अपनी सुरक्षा को लेकर बेहद चिंतित हैं क्योंकि उन्हें धमकियां मिल रही हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

DW.COM

WWW-Links