1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

जुकरबर्ग की बहन के सवाल

दुनिया की सबसी बड़ी सोशल नेट्वर्किंग वेबसाइट फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग की बहन ने सोशल मीडिया में प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर सवाल उठाए हैं. फेसबुक पर निजता के हनन के आरोप लगते आए हैं.

Randi Zuckerberg speaks during the second day of the seventh DLD Conference (Digital, Life, Design) at the HVB Forum on 24 January 2011 in Munich, Germany. DLD is an international conference network on innovation, digital media, science and culture which connects business, creative and social leaders, opinion-formers and investors for crossover dialogue and inspiration.

Randi Zuckerberg

मार्क जुकरबर्ग की बहन रैंडी जुकरबर्ग ने खास तौर पर तस्वीरों को लेकर सवाल उठाए और कहा कि ऑनलाइन की भी एक शिष्टता होती है, जिसका पालन किया जाना चाहिए. बुधवार को उनके बयान के बाद से इस पर खासी चर्चा छिड़ी हुई है.

रैंडी जुकरबर्ग कभी खुद फेसबुक में पब्लिक रिलेशन का काम देखती थीं. लेकिन इसके बाद उन्होंने कंपनी छोड़ दी और ऑनलाइन रिएलिटी शो बना रही हैं. परिवार की एक तस्वीर सार्वजनिक होने के बाद उन्होंने यह बात कही. इस तस्वीर में फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग अपनी रसोई में खड़े दिख रहे हैं और फेसबुक के नई टूल पोक पर कोई प्रतिक्रिया देते दिख रहे हैं. यह तस्वीर बजफीड डॉट कॉम सहित कई जगहों पर आ चुकी है.

फेसबुक के नए टूल पोक से भेजा गया संदेश थोड़ी देर में नष्ट किया जा सकता है. इसे स्मार्टफोन के लिए बड़ा टूल माना जा रहा है और कुछ लोगों ने मजाक किया है कि इसके जरिए आप किसी भी तरह का संदेश भेज सकते हैं और बाद में इसे खत्म कर सकते हैं.

रैंडी जुकरबर्ग ने फेसबुक पर यह तस्वीर सिर्फ अपने निकट दोस्तों के लिए लगाई थी. लेकिन बाद में इसे उन दोस्तों के दोस्तों ने भी शेयर कर लिया. यह सब सोशल नेटवर्क के प्राइवेसी सेटिंग की वजह से संभव हुआ. इसका मतलब यह हुआ कि तस्वीर ऐसे लोगों तक पहुंच गई, जो रैंडी के फ्रेंड्स लिस्ट में थे ही नहीं. इसके बाद किसी ने उसे ट्विटर पर पोस्ट कर दिया.

इसके बाद तो यह तस्वीर पूरी दुनिया में फैल गई. इसी मुद्दे पर रैंडी ने ट्वीट किया, "ऑनलाइन शिष्टताः किसी भी दोस्त की तस्वीर को सार्वजनिक तरीके से पोस्ट करने से पहले उसकी अनुमति जरूर लें. यह सिर्फ प्राइवेसी सेटिंग नहीं, बल्कि इंसानी फितरत भी होनी चाहिए."

इस कमेंट के बाद ट्विटर और फेसबुक सहित सभी जगह बहस छिड़ गई है. जुकरबर्ग पर आरोप लगते रहे हैं कि फेसबुक पर वह निजता के अधिकार का ख्याल नहीं रखते. इस घटना के बाद यह भी साबित हो गया कि फेसबुक की प्राइवेसी सेटिंग कितनी लचीली है. डैन लायन्स ने इसके बाद रीडराइट डॉट कॉम पर लिखा, "कितनी बुरी बात है कि कोई व्यक्ति आपकी कोई चीज ले लेता है और उसका ऐसा इस्तेमाल करता है, जिसकी आपने कल्पना भी नहीं की थी और जिसके लिए आपने अनुमति भी नहीं दी थी."

रैंडी जुकरबर्ग ने इस मामले में ट्विटर पर यह भी लिखा कि मुद्दा इतना गंभीर है कि उनका अगला रिएलिटी शो इसी मुद्दे पर बन सकता है.

एजेए/आईबी (एएफपी)

DW.COM

WWW-Links