1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जी का जंजाल 'वीआईपी कल्चर'

मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते हुए अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली को भ्रष्टाचार-मुक्त ही नहीं वीआईपी-कल्चर मुक्त बनाने का भी वादा किया था. दिल्ली ही नहीं महाराष्ट्र, हरियाणा, हर जगह इस तथाकथित "कल्चर" से आम आदमी परेशान है.

मुंबई के पुलिस कमिश्नर ने शहर के एक क्लब के बाहर हुए हंगामे की जांच के आदेश दे दिए हैं. बताया जा रहा है कि ट्रैफिक पुलिस के कुछ लोगों के साथ क्लब के सदस्यों की झड़प हुई. उस वक्त महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस वहां एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे.

दूसरी ओर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को मिली सरकारी गाड़ियों में से एक से हुई दुर्घटना में एक पैदल यात्री की जान चली गई. मुख्यमंत्री के काफिले के भी दो पुलिसकर्मियों समेत गाड़ी के ड्राइवर को चोटें आई हैं. सोमवार रात खट्टर चंड़ीगढ़ से दिल्ली की यात्रा पर थे. हादसा करनाल के पास हुआ. खुद मुख्यमंत्री ने ड्राइवर के खिलाफ इस मामले में एफआईआर दर्ज किए जाने को कहा और साथी ही मृतक के परिवार को पांच लाख का मुआवजा देने की घोषणा की.

उधर फडणवीस को काफी कुछ सुनने को मिल रहा है तो इधर हरियाणा के विपक्षी नेता भी जनता को होने वाली असुविधा को मुद्दा बना कर खट्टर को घेरने की कोशिश कर रहे हैं. ऐसे में कुछ लोग इसमें इन महत्वपूर्ण व्यक्तियों के इनके लंबे चौड़े काफिले की नहीं बल्कि रोड और ट्रैफिक व्यवस्था की गलती देखते हैं.

जेड श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त मुख्यमंत्री फडणवीस ने सोमवार रात हुई इस घटना के सिलसिले में उन लोगों से माफी मांगी है जिन्हें उनके कारण असुविधा हुई. उन्होंने ट्विटर पर लिखा है," राज्य में लोगों ने देखा है कि मैं ट्रैफिक सिग्नलों पर हमेशा रूकता हूं. मैं किसी वीआईपी कल्चर में विश्वास नहीं करता."

आरआर/ओएसजे (पीटीआई)

संबंधित सामग्री