1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जल्द दबोचा जाएगा बर्लिन का ट्रक हमलावर

इस्लामिक स्टेट ने बर्लिन के क्रिसमस बाजार पर हुए ट्रक हमले की जिम्मेदारी ली है. ट्रक से दर्जनों लोगों को कुचलने वाला अब भी फरार है.

इस्लामिक स्टेट की न्यूज एजेंसी अमाक ने ट्रक से भागने वाले शख्स का जिक्र करते हुए कहा कि वह, "इस्लामिक स्टेट का एक लड़ाका है जिसने धर्मयुद्ध छेड़ने वाले गठबंधन के नागरिकों को निशाना बनाकर जबाव दिया." जर्मनी इस्लामिक स्टेट के सफाये के लिए चल रहे सैन्य अभियान में सीधे तौर पर शामिल नहीं है. लेकिन जर्मन सेना के टॉरनैडो फाइटर जेट और फ्यूल स्टेशन तुर्की में हैं. इनका इस्तेमाल गठबंधन सेना आईएस के खिलाफ कर रही है.

इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी मंगलवार देर शाम ली. इससे पहले बर्लिन की पुलिस ने हिरासत में लिये गए शख्स को रिहा कर दिया. पुलिस ने एक 23 साल के पाकिस्तानी नागरिक नावेद बी को हिरासत में लिया था. असल के कुछ चश्मदीदों ने पुलिस को बताया कि हमले के बाद उन्होंने नावेद को ट्रक से भागते हुए देखा. लेकिन जांच में नावेद के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला. इसके बाद पुलिस ने हमलावर को पकड़ने के लिए व्यापक अभियान छेड़ दिया.

Deutschland Merkel Statement zum Anschlag in Berlin (Reuters/H. Hanschke)

जर्मन चासंलर अंगेला मैर्केल

अब इसकी भी जांच की जा रही है कि क्या हमला इस्लामिक स्टेट ने ही किया? अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी के मुताबिक हमला "पुराने आतंकी हमलों के हॉलमार्क" जैसा है. बर्लिन पुलिस ने लोगों से बेहद सतर्क रहने की अपील की है. बर्लिन पुलिस के प्रमुख क्लाउस कांट ने कहा, "शायद हमारे इलाके में एक खतरनाक अपराधी है."

पुलिस ने ट्रक से कई फॉरेंसिक सबूत जुटाये हैं. जांचकर्ताओं के मुताबिक उनके पास 500 से ज्यादा टिप्स हैं. जर्मन डिटेक्टिव्स फेडरेशन के चेयरमैन आंद्रे शुल्ज के मुताबिक, "मुझे इस बात का पक्का भरोसा है कि अगली सुबह या बहुत ही जल्द हमारे पास नया संदिग्ध होगा." माना जा रहा है कि हमलावर ने पहले पोलैंड के रजिस्ट्रेशन वाले ट्रक को हाइजैक किया. उसके ड्राइवर जुराव्स्की का शव ट्रक के भीतर ही मिला. जांचकर्ताओं के मुताबिक ट्रक के केबिन के भीतर मिले सबूतों से लगता है कि ट्रक ड्राइवर ने आतंकी के साथ संघर्ष भी किया. जुराव्स्की के शरीर पर चाकुओं और गोलियों के निशान मिले. ट्रक का जीपीएस मूवमेंट देखकर ऐसा लगता है जैसे कोई ट्रक चलाना सीख रहा हो.

सोमवार रात हुए हमले में 12 लोग मारे गए और 48 घायल हुए. जर्मनी भी अब इसे आतंकवादी हमला मान रहा है. मंगलवार को जर्मन चासंलर ने इस हमले को एक बड़ा धक्का बताते हुए कहा, "इसके जिम्मेदार लोग हमारे कानूनों की पूरी ताकत देखेंगे."

ओएसजे/एमजे (एपी, डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री