1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

जर्मन नौसेना में बगावत से सरकार परेशान

जर्मन नौसेना में बगावत और अफगानिस्तान में गलती से गोली चल जाने से एक जर्मन सैनिक की मौत के सिलसिले में जर्मन रक्षा मंत्री कार्ल थियोडोर सु गुटेनबेर्ग ने जांच के आदेश दिए हैं. वह खुद बेहद दबाव में हैं.

default

गुटेनबर्ग मुश्किल में

गुटेनबर्ग ने जर्मन अखबार बिल्ड आम जॉन्टाग से बात करते हुए कहा कि जर्मन सेना, नौसेना और वायु सेना, तीनों की जांच की जाएगी और पिछले हफ्ते की घटनाओं का कारण पता किया जाएगा. गुटनबेर्ग ने कहा, यह घटनाएं जर्मन सेना की मानकों के विरुद्ध हैं.

पिछले हफ्ते की इन घटनाओं से रक्षा मंत्री को काफी आलोचना झेलनी पड़ी है. हालांकि चांसलर अंगेला मैर्केल ने उनके बोझ को हलका करते हुए उनके पक्ष में बोला है.

Flash-Galerie Piraterie Somalia Piraten festgenommen

शुक्रवार को गुटनबेर्ग ने जर्मन सैन्य परीक्षण जहाज गोर्श फोक के कप्तान नॉर्बर्ट शाट्ज को उनके पद से हटा दिया था. जहाज में एक 25 वर्षीय महिला कैडेट कुछ ऊंचाई से डेक पर गिर गईं और उनकी वहीं पर मौत हो गई. जहाज में बगावत और यौन शोषण की अफवाहें भी फैल रही थीं. गुटनबेर्ग ने जहाज को अर्जेंटीना के पास महासागर से तुरंत वापस आने के आदेश दिए हैं.

रक्षा मंत्री के दफ्तर पर आरोप लगाए गए हैं कि अधिकारियों ने अफगानिस्तान में एक सैनिक की मौत को लेकर जानकारी के साथ छेड़छाड़ की. अफगानिस्तान में सैनिकों के खतों के साथ भी छेड़खानी की गई है. दोनों आरोप अफगानिस्तान में जर्मन सेना की एक ही यूनिट को लेकर हैं. चिट्ठियों को लेकर खबर के कुछ ही देर बाद 12 लोगों के टेंट के सामने एक सैनिक मारा गया. सेना का कहना है कि उसकी मौत एक भरी हुई पिस्तौल के साथ लापरवाही से हुई है.

रिपोर्टः डीपीए/एमजी

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री