1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जर्मन थल सेना में हो सकती है आधी कटौती

जर्मन सेना में बचत योजना के तहत सुधारों के जिन मॉडलों पर चर्चा हो रही है, उनमें थल सैनिकों की संख्या में आधी कटौती का प्रस्ताव भी शामिल है. हजारों पद स्वंयसेवी सैन्य सेवा से भरने की तैयारी हो रही है.

default

जर्मनी की प्रतिष्ठित साप्ताहिक पत्रिका डेअ श्पीगेल का कहना है कि रक्षा मंत्री कार्ल थियोडोर सू गुटेनबर्ग जिस मॉडल का पक्ष ले रहे हैं उसमें थल सेना में लगभग आधी कटौती शामिल है. एक आंतरिक दस्तावेज के अनुसार थल सैनिकों की संख्या इस समय के 95 हज़ार से घटाकर 55 हजार करने का इरादा है. 4500 कार्यस्थानों को स्वयंसेवी सैन्य सेवा करने वाले जवानों से भरा जाएगा.

Verteidigungsminister Karl Theodor zu Guttenberg vor dem Reichstag in Berlin

रक्षा मंत्री गुटेनबर्ग

डेअ श्पीगेल का कहना है कि सुधार योजनाओं के अनुसार थल सेनाध्यक्ष के अधीन सिर्फ चार डिवीजन तैनाती टुकड़ी और दो ब्रिगेड स्तर की टुकड़ी होगी. टैंकों की संख्या में आधी कमी की जाएगी लेकिन इंफैंट्री जवानों की संख्या 10 हजार बनी रहेगी.

श्पीगेल की रिपोर्ट पर रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा है कि मीडिया में छप रही रिपोर्टों में चर्चित मॉडल मंत्रालय के अंदर हो रहे विचार हैं. प्रवक्ता ने कहा, ''अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है. रक्षा मंत्री गुटेनबर्ग जर्मन सेना में व्यापक सुधारों की योजना बना रहे हैं जिसके तहत सैनिकों की कुल संख्या एक लाख तक घटाई जा सकती है. अनिवार्य सैन्य सेवा की समाप्ति और कई छावनियों को बंद करने पर भी विचार हो रहा है.''

NO FLASH - Bundeswehr Chahar Dara Brücke

डेअ श्पीगेल का कहना है कि अनिवार्य सैन्य सेवा और नागरिक सेवा की समाप्ति का समाज सेवा संरचना पर कोई असर नहीं होगा. सैन्य सेवा को नकारने वालों के संगठन ने यह बात परिवार कल्याण मंत्रालय के लिए तैयार एक रिपोर्ट में कही है. इस समय लगभग 40 हज़ार लोग नागरिक सेवा कर रहे हैं जबकि 1999 में उनकी संख्या 1,45,000 थी. संगठन ने कहा है कि साफ है कि पिछले दस सालों में सामाजिक क्षेत्रों में काम करने वाले अनिवार्य असैनिक सेवा वाले लोगों के स्थान पर अन्य लोगों को भर्ती करने में सफलता मिली है.

रिपोर्ट: एजेसियां/महेश झा

संपादन: ओ सिंह