1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

जर्मन जू से दुर्लभ बंदर चोरी

यूरोप के कई चिड़ियाघरों से दुर्लभ जानवरों की चोरी हो रही है. इस बार चोरों ने जर्मनी के एक जू को निशाना बनाया है. जू से चोरी हुए दुनिया के सबसे छोटी प्राइमेट प्रजाति के तीन बंदर.

जर्मनी के डॉर्टमुंड शहर के प्रसिद्ध चिड़ियाघर में चोरों ने सेंध लगा दी. चोरों का निशाना बने दुनिया के बंदरों की सबसे छोटी प्रजातियों में से एक पिग्मी मार्मोसेट के जानवर. डॉर्टमुंड की पुलिस ने बताया कि जू में रखे गए पिग्मी मार्मोसेट प्रजाति के तीन बंदर गायब हैं. पुलिस ने बताया है कि पिग्मी मार्मोसेट प्रजाति के बंदर की चोरी 9-10 अगस्त की रात को हुई.

इसके अलावा चोरों ने चिड़ियाघर से दो और बंदर भी चुराए "और बिना किसी को दिखे भागने में कामयाब भी रहे." चुराए गए दो बंदर पिग्मी मार्मोसेट प्रजाति के थे. इनकी लंबाई 15 सेंटीमीटर (6 इंच) से भी कम थी. इन्हें ब्रीडिंग के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था. जर्मन समाचार एजेंसी डीपीए ने बताया कि इस घटना के बाद चिड़ियाघर 24-घंटे निगरानी वाला कैमरा लगाने जा रहा है.

दुर्लभ जानवरों की चोरी का यह कोई पहला मामला नहीं है. हाल ही में कई यूरोपीय देशों के चिड़ियाघरों से खासकर प्राइमेट प्रजाति के जानवरों की चोरी के मामलों में तेजी आई है. इसी साल मई में ही फ्रांस के एक जू से ऐसे ही बिरले पशुओं की बड़ी चोरी हुई थी. दुर्लभ और नाजुक बंदरों की दो प्रजातियों बुवाल जू से चोरी हो गई थीं. इनमें सात गोल्डेन लायन टामारिन और 10 सिल्वर मार्मोसेट प्रजाति के बंदर थे.

आरआर/एमजे (एएफपी)

DW.COM