1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जर्मन अस्पताल में जहरीले ड्रिप से दो शिशुओं की मौत

जर्मन शहर माईन्ज के अस्पताल में दो नवजात शिशुओं की जहरीले ड्रिप से मौत हो गई है. अधिकारियों के मुताबिक 11 बच्चों को इलाज के तहत ड्रिप के जरिए पोषण दिया जा रहा था लेकिन यह बैक्टीरिया से दूषित था.

default

जहरीले ड्रिप का शिकार

इनमें से दो बच्चों की मौत शनिवार को हो गई. इन्हें अस्पताल के सघन चिकित्सा केंद्र में रखा गया था और पहले से ही इनकी हालत काफी खराब थी. इस बीच एक और शिशु की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है. अस्पताल के प्रमुख नॉर्बर्ट फाइफर का कहना है कि बच्चा वैसे ही कमजोर है. शहर की पुलिस ने मामले की जांच के लिए खास आयोग का गठन किया है.

Tod zweier Kinder Uni-Klinik in Mainz

माईन्ज में अस्पताल

रविवार को अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि पांच और शिशुओं की हालत खराब है लेकिन बच्चों के क्लिनिक के प्रमुख के मुताबिक सोमवार सुबह तक उनकी स्थिति सुधर गई थी.

अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि बच्चों के लिए अलग से दवाईयां बनाई गईं थीं और इसके लिए जरूरी सामान एक सप्लायर से खरीदे गए थे. बाकी नौ बच्चों का इलाज चल रहा है. अस्पताल के प्रमुख फाइफर का कहना है कि वे इस हादसे से हैरान हैं और सप्लाई को लेकर जांच चल रही है. उन्होंने बच्चों के ड्रिप में बैक्टीरिया के बारे में कुछ नहीं बताया लेकिन उन्होंने कहा कि प्रयोगशाला में निरीक्षण के बाद पता चला कि ड्रिप की दवाई के दूषित होने के बारे में पता चला. इस बीच अस्पताल ने दवाई के मिश्रण के लिए पुराने सिस्टम को बदल दिया है और एक दूसरे उत्पादक से दवाईयां ले रहे हैं.

सरकारी वकील इस बीच लापरवाही के चलते मौत और शारीरिक हानि पहुंचाने के आरोपों की तहकीकात कर रहे हैं. दूषण कहां और कैसे हुआ, यह पता करने के बाद ही अस्पताल या सप्लायर पर कार्रवाई की जा सकेगी. सोमवार को मौत के शिकार दो शिशुओं की जांच को लेकर कुछ शुरुआती परिणामों के आने की उम्मीद है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links