1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जर्मनी में एसिड वाले टैंकर की दुर्घटना, दो लापता

जर्मनी में सल्फ्यूरिक एसिड से लदा एक टैंकर राइन नदी में उलटा गया है. दो लोग पानी से लबालब भरी राइन नदी में लापता हैं. पुलिस उन्हें खोज रही है. अब तक एसिड के पानी में मिलने के संकेत नहीं हैं.

default

राइनलैंड पलैटिनेट राज्य की जल सुरक्षा पुलिस का कहना है कि दुर्घटना प्रसिद्ध पर्यटन स्थल लोरेलाय के निकट सेंट गोआर में राइन नदी में हुई. उस इलाके को नौवहन के लिए रोक दिया गया है. पुलिस ने चार कर्मी दलों में से दो को बचा लिया है जबकि दो की खोज की जा रही है. उनकी खोज में इंफ्रारेड कैमरों से लैस हेलीकॉप्टर को लगाया गया है.

पुलिस के प्रवक्ता ने कहा है कि सल्फ्यूरिक एसिड पानी के साथ मिलकर जलने वाला मिश्रण पैदा करता है, लेकिन अब तक एसिड के टैंकर से बाहर निकलकर पानी में मिलने के संकेत नहीं हैं. पुलिस के अनुसार वाल्डहोफ नाम के जहाज के एसिड टैंक में अब तक कोई नुकसान नहीं दिखा है.

2400 टन सल्फ्यूरिक एसिड से लदा टैंकर क्यों दुर्घटनाग्रस्त हुआ, इसका पता नहीं चला है. पुलिस प्रवक्ता ने कहा, "हम इसकी व्याख्या नहीं कर सकते कि टैंकर क्यों उलटा." इस समय जर्मनी की नदियों में बर्फ पिघलने के कारण काफी पानी है. राहतकर्मियों के लिए पानी का तापमान भी समस्या पैदा कर रहा है. इस समय वायु का तापमान लगभग 12 डिग्री सेल्सियस है जबकि पानी का तापमान 4 डिग्री के लगभग है. इस तापमान में अधिक समय तक जीवित बचना संभव नहीं है.

जर्मन जहाज राइन नदी में उत्तर की ओर जा रहा था. पुलिस को उसके सही रास्ते का पता नहीं है. अभी तक यह भी साफ नहीं कि कर्मीदल के सदस्यों की नागरिकता क्या है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: ए कुमार

DW.COM