1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जर्मनी ने बेल्जियम को 1-0 से हराया

यूरो कप 2012 क्वालीफाइंग मुकाबलों में जर्मनी ने अपने पहले मैच में बेल्जियम को 1-0 से हरा दिया है. कोच योआखिम लोएव की टीम का जीत से आगाज. करीब दो महीने पहले ही जर्मनी ने वर्ल्ड कप में तीसरा स्थान हासिल किया है.

default

बेल्जियम ने दी कड़ी टक्कर

हालांकि ब्रसेल्स में हुए मैच में बेल्जियम को हराने में जर्मनी को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. जर्मन फुटबॉल टीम के कोच योआखिम लोएव की ग्रुप ए में बढ़िया शुरुआत तो हुई लेकिन टीम वैसा प्रदर्शन करती नहीं दिखी जैसा उसने दक्षिण अफ्रीका में हुए वर्ल्ड के दौरान किया.

पहले हाफ में मेजबान बेल्जियम ने अच्छा प्रदर्शन किया और अगर जर्मनी के गोलकीपर ने गोल की ओर जा रहे शॉट का बचाव नहीं किया होता तो जर्मनी एक दो गोल से पीछे होता.

दूसरे हाफ में जर्मनी ने मैच में अपना प्रभाव जमाने की कोशिश की और अनुभवी स्ट्राइकर मिरोस्लाव क्लोजे ने 51वें मिनट में जर्मनी के लिए गोल दाग दिया. बास्टियान श्वानश्टाइगर ने गेंद को अपने कब्जे में लिया और वर्ल्ड कप के सितारे थॉमस म्यूलर को पास दिया.

EM Qualifikation Belgien Deutschland Fußball FLash-Galerie

मिरोस्लाव क्लोजे

म्यूलर ने इसे आगे बढ़ाते हुए बॉल क्लोजे को थमाई और क्लोजे ने जर्मनी के लिए अपना 53वां गोल करने में कोई गलती नहीं की. वैसे तो बेल्जियम के खिलाड़ी पूरी ताकत और आत्मविश्वास से खेले लेकिन दूसरे हाफ में उन्हें गोल करने के मौके ज्यादा नहीं दिखाई दिए.

मिषाएल बालाक की गैर मौजूदगी में टीम की कप्तानी फिलिप लाम ने ही की. हालांकि बालाक और लाम के बीच कप्तानी के विवाद को लेकर जर्मनी में खासी गहमा गहमी है. कोच लोएव कह चुके हैं कि कप्तान बालाक ही हैं, बशर्ते वह खेलें. शुरू के दो मैचों के लिए टीम में बालाक को जगह नहीं दी गई है.

जर्मन कोच योआखिम लोएव ने मैच के बाद कहा कि जीत बेहद अहम है. "टीम उत्साह के साथ खेली और यह जीत महत्वपूर्ण है. मैच के कई हिस्सों में लगा कि खिलाड़ियों को अभी और अभ्यास की जरूरत है और हमें अपनी लय में आने में कुछ समय लगेगा."

लोएव के मुताबिक उनका लक्ष्य 2012 यूरो कप के फाइनल में पहुंचना और वर्ल्ड कप विजेता स्पेन का सामना करना है. जर्मनी का अगला मैच कोलोन में अगले बुधवार को अजरबेजान से होगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए जमाल