1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जर्मनी को टक्कर देंगे 'सौ फीसदी फिट' रोनाल्डो

मीडिया में आ रही खबरों के उलट क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने साफ किया है कि वे अपनी पुर्तगाली राष्ट्रीय टीम की जर्मनी के साथ सोमवार को होने वाली टक्कर के लिए पूरी तरह तैयार हैं.

इस साल बैलोन डेओर विजेता रोनाल्डो जर्मनी के हाथों लगातार हारती आ रही पुर्तगाली टीम को जीत दिलाने की कोशिश में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. पुर्तगाल के स्ट्राइकर 29 साल के रोनाल्डो को पिछले कुछ समय से घुटनों और जांघों में तकलीफ रही है. मगर रविवार को उन्होंने सल्वाडोर में अभ्यास सत्र में जम कर मेहनत की. सोमवार को ग्रुप जी के मुकाबले के पहले फुटबॉल की दुनिया के सुपर स्टार रोनाल्डो ने बताया, "मैं पिछले कुछ दिनों से प्रैक्टिस करता आ रहा हूं. अगर मैं चोटिल होता तो ऐसा नहीं कर पाता." रोनाल्डो ने कहा, "मैं तो 110 फीसदी चाहूंगा लेकिन फिलहाल मैं नेशनल टीम की मदद के लिए 100 फीसदी तैयार हूं."

अपने देश की ओर से 111 मैच खेल चुके रोनाल्डो के नाम पुर्तगाल की ओर से रिकार्ड 49 गोल किए हैं. ब्राजील विश्व कप में शिरकत कर रोनाल्डो विश्व कप फुटबॉल मुकाबलों में हिस्सा लेने की हैट ट्रिक पूरी करेंगे. मीडिया में लगातार खबरें आ रही थीं कि वे घायल होने के कारण शायद इस बार न खेल सकें. रोनाल्डो ने उन सभी आशंकाओं को खारिज करते हुए कहा, "जाहिर है, मैं खुद बिना दर्द के खेलना चाहूंगा. मेरे पूरे करियर में हमेशा ही मुझे किसी न किसी तरह की चोट या दर्द से जूझना पड़ा है लेकिन मैं खेलने के लिए तैयार हूं." रोनाल्डो ने माना कि किसी भी खिलाड़ी के लिए उसकी सेहत बहुत महत्वपूर्ण होती है. उन्होंने कहा कि अगर वे खेल के दौरान किसी तरह की परेशानी महसूस करते हैं तो वे अपने कोच को जरूर बताएंगे. "मैं एक मैच के लिए अपना करियर दांव पर नहीं लगाने वाला हूं. अगर मैं फिट नहीं होता तो नहीं खेलता."

ब्राजील के अरेना फॉन्टे नोवा में होने वाला मुकाबला पुर्तगाल के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. साल 2006 से अब तक हुए तीन बड़े टूर्नामेंट मैचों में जर्मनी ने पुर्तगाल को हार का मुंह दिखाया है. 2012 में यूरो कप में जर्मनी से हार कर पुर्तगाली टीम बाहर हो गई थी. कुछ ही हफ्तों पहले 24 मई को चैंपियंस लीग के फाइनल में रियाल मैड्रिड की ओर से खेलते हुए रोनाल्डो ने शानदार खेल दिखाया था. तब भी उनकी फिटनेस पर चिंता जताई जा रही थी. इस बार बहुत से लोगों को हैरान करते हुए चैंपियंस लीग के सेमीफाइनल मुकाबले में रियाल ने बायर्न म्यूनिख को हरा दिया. रोनाल्डो बताते हैं, "स्पष्ट रूप से, जर्मनी का ऐतिहासिक रिकार्ड बहुत अच्छा रहा है. रियाल मैड्रिड भी बायर्न को नहीं हरा पा रही थी लेकिन हाल ही में स्थिति बदली है." रोनाल्डो की उम्मीद है कि इस साल पुर्तगाल भी जर्मनी के खिलाफ अपनी स्थिति बदल सकेगा.

Bayern München Real Madrid

चैंपियंस लीग के सेमीफाइनल में रियाल ने बायर्न को हरा कर किया हैरान

पुर्तगाल के कोच पॉलो बेंटो कहते हैं कि टीम में रोनाल्डो के महत्व को कम नहीं आंका जा सकता. 44 साल के बेंटो बताते हैं, "क्रिस जैसा कोई खिलाड़ी होना अपने आप में बहुत बड़ी बात है क्योंकि उसके होने से हमारे पूरे खेल पर असर पड़ता है और यह बात टीम के सभी खिलाड़ी जानते हैं." इस पर रोनाल्डो ने कहा कि खुद पर इतना दबाव महसूस करना काफी नहीं है. जरूरी ये है कि पूरी टीम ऐसा माने, "हमें वास्तविक अपेक्षाएं रखनी होंगी. हम फेवरिट नहीं हैं और सैद्धांतिक रूप से हमसे भी मजबूत टीमें हैं. हमें विनम्र रह कर मानना चाहिए कि यह एक मुश्किल मुकाबला होगा. लेकिन हम जब एक फेवरिट टीम के खिलाफ मैदान में उतरेंगे तो हमारे पास उन्हें हराने का मौका होगा."

आरआर/एजेए (एएफपी)

संबंधित सामग्री