जर्मनी के सामने इंग्लैंड नतमस्तक | खेल | DW | 20.11.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जर्मनी के सामने इंग्लैंड नतमस्तक

क्रिकेट में जैसा भारत पाकिस्तान का मुकाबला है, वैसे ही फुटबॉल में जर्मनी और इंग्लैंड की टक्कर होती है. मंगलवार को हुई ऐसी टक्कर में जर्मनी ने फिर से इंग्लैंड को हरा दिया. हार इंग्लैंड के लिए कड़वे घूंट से कम नहीं.

लंदन के वेंबली स्टेडियम पर एक तरह कहा जाए तो जर्मनी की बी टीम मौजूद थी. मिरोस्लाव क्लोजे, बास्टियान श्वाइनश्टाइगर, फिलिप लाम, मेसुत ओएजिल, सामी खदीरा और गोलकीपर मानुएल नॉयर जैसे सितारों के बिना मैदान पर उतरी जर्मन टीम ने पूरी ताकत से आए इंग्लैंड को 1-0 से हराया. वेन रूनी, स्टीवन जेरार्ड, एश्ले कोल, कीरेन गिब्स और फ्रैंक लैम्पार्ड जैसे स्टार दौड़ते भागते रहे, लेकिन जर्मन रक्षापंक्ति नहीं भेद सके.

हार के बाद ब्रिटिश मीडिया एक बार फिर इंग्लैंड के फुटबॉल ढांचे पर सवाल खड़े कर रहा है. विश्लेषक कह रहे हैं कि जर्मन टीम नए खून के साथ भी इतना अच्छा खेल गई. मारियो गोएत्जे, टोनी क्रूस, हुमेल्स और मॉर्को रॉयस जैसे खिलाड़ियों ने साबित कर दिया कि वो जर्मन टीम को आगे ले जा सकते हैं, वहीं इंग्लैंड के नए खिलाड़ी कोई छाप नहीं छोड़ सके. इसके लिए इंग्लिश प्रीमियर लीग के ढांचे को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है. प्रीमियर लीग के बड़े क्लबों में ज्यादातर विदेशी खिलाड़ी खेलते हैं, इसकी वजह से इंग्लैंड के युवा खिलाड़ियों को बड़े खिलाड़ियों या अपने ही देश के स्टार खिलाड़ियों के साथ खेलने मौका ही नहीं मिलता है.

WM Qualifikation Ukraine-Frankreich

यूक्रेन का आत्मघाती गोल

फ्रांस का जबरदस्त खेल

वहीं मंगलवार को खेले गए वर्ल्ड कप क्वालिफाइंग के दूसरे मुकाबलों में फ्रांस ने भी जबरदस्त खेल दिखाया. पहले मुकाबले में यूक्रेन के हाथों दो गोल की हार झेलने के बाद फ्रांसीसी टीम ने जबरदस्त वापसी की और यूक्रेन को 3-0 से धो डाला. फ्रांस को वर्ल्ड कप में पहुंचने के लिए बिना गोल खाए कम से कम दो गोल के अंतर से जीतना था. फ्रांक रिबेरी और करीम बेंजिमा के शानदार खेल की बदौलत फ्रांस ने यूक्रेन के सपने को तोड़ दिया. यूक्रेन ने एक गोल अपने ही खिलाड़ी के पैरों से खाया.

कौन कौन खेलेगा वर्ल्ड कप

मंगलवार रात के बाद ब्राजील के वर्ल्ड कप तक पहुंचने वाली 32 टीमों की तस्वीर काफी साफ हो गई. अभी तक की टीमें इस तरह हैं

अफ्रीकाः

  • घाना
  • कैमरून
  • आइवरी कोस्ट
  • अल्जीरिया
  • नाइजीरिया

यूरोपः

  • जर्मनी
  • फ्रांस
  • इंग्लैंड
  • पुर्तगाल
  • स्पेन
  • ग्रीस
  • नीदरलैंड्स
  • इटली
  • क्रोएशिया
  • बोस्निया हर्जगोविना
  • स्विट्जरलैंड
  • रूस

एशियाः

  • ईरान
  • जापान
  • दक्षिण कोरिया
  • ऑस्ट्रेलिया

उत्तरी अमेरिकाः

  • कोस्टा रिका
  • होंडुरास
  • अमेरिका

दक्षिण अमेरिकाः

  • ब्राजील
  • अर्जेंटीना
  • कोलंबिया
  • इक्वाडोर
  • चिली

1992 में बनी टीम बोस्निया हर्जगोविना अगले साल अपना पहला विश्व कप खेलेगी. अर्जेंटीना को हराने के बावजूद डियैगो फोरलान की टीम उरुग्वे फिलहाल वेटिंग लिस्ट में है.

ओएसजे/एजेए (एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री