1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जर्मनी के फेटल ने जीती जापान ग्रां प्री

रेड बुल के ड्राइवर जर्मनी के सेबास्टियान फेटल ने जापानी ग्रां प्री जीत ली है. उन्होंने अपनी ही टीम के साथी मार्क वेबर को हराया. फरारी के फर्नांडो अलोंसो तीसरे नंबर पर रहे.

default

रविवार को हुई जापान ग्रां प्री घटनाओं से भरी रही. कई कारें दुर्घटना का शिकार हुईं. छह कारों को तो पहला लैप पूरा होने से पहले ही रेस से हट जाना पड़ा.

फेटल ने 307.471 किलोमीटर की यह रेस एक घंटा 30 मिनट 27.323 सेकंड्स में पूरी की. इस जीत के साथ ही फेटल के 206 अंक हो गए हैं. स्पेन के फर्नांडो अलोंसो भी उनके बराबर हैं. पहले नंबर पर मार्क वेबर हैं जिनके 220 अंक हैं.

शनिवार को बारिश की वजह से क्वॉलिफाइंग दौड़ नहीं हो पाई. इसे रविवार सुबह आयोजित किया गया और फेटल ने इस साल में आठवीं बार पोल पोजिशन हासिल करने में कामयाबी पाई. जीत के बाद उन्होंने कहा, "यह एक अद्भुत दिन रहा. क्वॉलिफाइंग में बढ़िया शुरुआत रही और फिर आगे भी जारी रही. अच्छी शुरुआत जरूरी है."

23 साल के इस जर्मन ड्राइवर ने कहा कि मार्क वेबर को पीछे छोड़ने के लिए उन्होंने सब कुछ किया और इसमें उन्हें कामयाबी भी मिली.

रेस शुरू होने से पहले ही माहौल काफी नाटकीय हो गया जब वॉर्म अप के दौरान वर्जिन के लुकास डि ग्रासी की कार क्रैश हो गई और उन्हें रेस छोड़नी पड़ी. पहला लैप पूरा होने से पहले कुछ और ड्राइवरों को रेस से बाहर जाना पड़ा. रेस शुरू होते ही रेनॉ विटैली पेत्रोव की निको हुल्केनबेर्ग के विलियम्स से टक्कर हो गई. दोनों को बाहर जाना पड़ा. बाहर जाने वालों में अगला नंबर फेरारी के फेलिपे मासा का था. 12वें ग्रिड से शुरू करने वाला मासा फोर्स इंडिया के विटानटोनियो लुजी से टकराए.

जब रेस में 11 लैप बाकी थे तब हैमिल्टन के इंजन में कुछ परेशानी पैदा हो गई. इसका नतीजा यह हुआ कि बटन उनसे आगे निकल गए.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links