1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

फीडबैक

"जमीं पर आसमानी फरिश्ता"

जर्मनी और ब्राजील के बीच हुए सेमीफाइनल ने तो फुटबॉल प्रेमियों को आश्चर्यचकित कर दिया. फुटबॉल के अलावा पाठकों से हमे मंथन पर भी प्रतिक्रियाएं मिलीं.

ब्राजील के बेलो हारिजेंटे मैदान पर जर्मनी के खिलाडि़यों ने जो प्रदर्शन किया वो लाजवाब और हैरतअंगेज रहा. एक ऐसा जांबाज प्रदर्शन की आंखें जस की तस ठहर गई मानो कोई इंसान नहीं बल्कि आसमानी फरिश्ता जमीं पर खेल रहा हो. थॉमस मुलर के पहले गोल से जो खाता खुला वो खेल के अन्त तक सात गोलों तक निर्बाध बना रहा. क्षण प्रति क्षण जर्मनी के खिलाड़ी मेजबान टीम पर अपना दबादबा बनाते दिखे. पूरी तरह से आत्मविश्वास से लबरेज जर्मनी के खिलाडि़यों का खेल देखते ही बन रहा था. ऐसा कोई पल नहीं नजर आया जब लगा हो कि ब्राजील के खिलाड़ी कहीं अपना दबाव बना सके. सचमुच एक रोमांचक और दिलचस्प मुकाबला था जिसने कई नए रिकार्डों को जन्म दिया. ब्राजील को अब तक कि मिली सबसे करारी शिकस्त उसे हमेशा सालती रहेगी, वहीं दूसरी ओर जर्मनी को सेमीफाइनल की ये बड़ी जीत विश्वकप विजेता बनने के लिए नई ऊर्जा प्रदान करेगी. हमें पूरी उम्मीद है कि जर्मनी एक नए उत्साह के साथ फुटबाल का बेताज बादशाह भी जल्द ही बन जाएगा. सभी को हार्दिक बधाई!
रवि श्रीवास्तव, जन भाषा प्रकाशन प्राइवेट लिमिटेड, इलाहाबाद

विज्ञान और आविष्कार की खबरों से अवगत की गारंटी बनता मंथन एक बार फिर रोचक जानकारी की फूलझड़ी से हमारे मस्तिष्क में ज्ञान की रोशनी भर गया. वर्तमान में सबसे बड़े खतरे की ओर जर्मन शोधकर्ताओं की गहरी दिलचस्पी ने चैटिंग को सुरक्षा का नया कवच पहनाने के शिफरी की भूमिका को सलाम करते हैं.

वाट्सएप और ट्वीटर या फेसबुक पर हमारे संदेश का सुरक्षित न होना एक बड़ी समस्या है और चिंता का विषय भी, पर शिफरी जर्मनी से बाहर निकलते हुए विश्व को सुरक्षा सम्बन्धि जो तोहफा देने जा रही है वह लाजवाब है. 2008 से स्विट्जरलैंड के सर्न प्रयोगशाला में 35 देशों की 170 संस्थाओं के एटलस डिटेक्टर पर भी रोचक जानकारी देने के लिये मंथन टीम का आभारी हूं. 27 किलोमीटर की सुरंग, वह भी चुम्बक से तैयार करना अजूबे के समान है पर सत्य है. यही विज्ञान है.
मुहम्मद सादिक आजमी, लोहिया, अमिलो, जिला आजमगढ, उत्तर प्रदेश

मुझे अप्रैल माह की पहेली का विजेता घोषित किया गया था और इनाम में मुझे डॉयचे वेले की ओर से एक घड़ी मिली है. इसके लिये आप सभी का बहुत धन्यवाद. डॉयचे वेले के प्रोग्राम मुझे बहुत ही अच्छे लगते हैं, बड़े ही ज्ञानवर्धक और रोचक होते हैं. इन्हें 10 साल पहले मैं रेडियो पर सुनता था लेकिन अब मैं टीवी और वेबसाइट पर देखता हूं.
साजिद अनवर, नॉयडा, उत्तर प्रदेश

आजकल विश्वकप फुटबाल का बुखार सब ओर दिखाई दे रहा है. जर्मनी फाइनल में तो पहुंच गया है. 24 साल से खिताब जीतने का इंतजार है जर्मनी को. लगता है 2014 में यह पूरा हो जाएगा. विश्वकप फुटबाल के अवसर पर डॉयचे वेले की वेबसाइट का खेल पेज बहुत आकर्षक और ताजी जानकारी से पाठकों के सामने हाजिर है. इस वक्त वेबसाइट का खेल पेज ही मुख्य आकर्षण है. फिर भी दुनिया, विज्ञान, मनोरंजन, जर्मनी को जानिए शीर्षक पेज देखना कभी नहीं भूलता. मैं हर वक्त, हर पल डॉयचे वेले के साथ हूं क्योंकि डॉयचे वेले वेबसाइट का हर पेज ज्ञान का एक अनमोल खजाना है जिसकी खोज प्रतिनियत चलती रहेगी और जिसे खोना कभी सम्भव नहीं.

सुभाष चक्रवर्ती, नई दिल्ली

संकलनः विनोद चड्ढा

संपादनः मानसी गोपालकृष्णन