1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मंथन

जब घर बन जाए ट्रेन

क्या बचपन में आपको भी कभी ट्रेन के डिब्बों में ही घर बनाने का ख्याल नहीं आया? ऐसा ही एक सपना देखा था फोटोग्राफर मार्को श्टेपनियाक और वनेसा श्टालबाउम ने. और हैरत की बात ये कि उन्होंने अपने इस सपने को सच कर दिखाया है. जी हां, इस जोड़े ने दो साल की कड़ी मेहनत और बहुत सारे खर्च से ट्रेन में ही घर बना डाला है.

वीडियो देखें 04:18

और पढ़ें