1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

जबरदस्त ठंड, बेल्जियम में 500 किमी लंबा जाम

भयंकर बर्फबारी और कड़कड़ाती ठंड के बीच यूरोपीय देश बेल्जियम ठहर कर रह गया है. प्रमुख हाइवे और शहरों की बड़ी सड़कों पर बर्फ की चादर लिपटी है और लगभग 500 किलोमीटर लंबा जाम लग गया है. पूरा देश जाम की स्थिति झेल रहा है.

default

राजधानी ब्रसेल्स की सड़कों पर गाड़ियां रेंग भी नहीं पा रही हैं. बुधवार को ही बसें और कारें यहां बर्फ में जाम हो कर रह गईं. शहर के एयरपोर्ट का भी यही हाल है और यहां से विमान सेवाएं बुरी तरह बाधित हुई हैं.

बेल्जियम के अलावे यूरोप के दूसरे देशों में भी सर्दी का बुरा हाल है. इंग्लैंड को यूरोप के दूसरे देशों से जोड़ने वाली प्रमुख रेल सेवा यूरोस्टार को गुरुवार को अपनी आधी से ज्यादा रेलें रद्द करनी पड़ीं. यूरोप के एक बहुत बड़े हिस्से में अब भी बर्फ गिर रही है. हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि एक दो दिन में स्थिति बेहतर हो सकती है.

पोलैंड में पारा माइनस 26 डिग्री तक पहुंच गया है. यहां आठ बेघर लोगों की ठंड की वजह से मौत हो गई है, जबकि फ्रांस के 12 क्षेत्रों में लंबी लॉरियों पर फिलहाल रोक लग गई है, ताकि जाम से बचा जा सके. रात भर हाइवे पर लंबी लॉरियां खड़ी रहीं.

रुक रुक कर हो रही बर्फबारी के बाद जेनेवा और लंदन के गैटविक एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है. इन एयरपोर्टों पर खड़े विमानों पर बर्फ की परत जम चुकी है और रनवे पूरी तरह बर्फ से ढंक गया है. बर्फ काटने की मशीनों से बर्फ हटाने का काम चल रहा है. यूरोप के सबसे व्यस्त एयरपोर्ट लंदन के हीथ्रो पर फिलहाल ज्यादा असर नहीं पड़ा है. लेकिन अधिकारियों ने कहा है कि बर्फबारी की वजह से उड़ानों में दिक्कत आ सकती है. जर्मनी के सबसे बड़े एयरपोर्ट फ्रैंकफर्ट के अलावा म्यूनिख और ऑस्ट्रिया के वियना एयरपोर्ट पर भी हवाई सेवा बाधित हुई है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links