1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

जन्मदिन पर दिलीप कुमार को बधाई

ट्रेजेडी किंग के नाम से मशहूर दिलीप कुमार को बॉलीवुड सितारों ने उनके 92वें जन्मदिन पर बधाई दी. जन्मदिन मनाने के लिए उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. वह निमोनिया के चलते कई दिनों से लीलावती अस्पताल में भर्ती थे.

अस्पताल से बाहर आने पर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने आए प्रशंसकों ने उनका स्वागत किया और उन्हें जन्मदिन की बधाई दी. 11 दिसंबर, 1922 को पेशावर में जन्मे दिलीप कुमार की पहली फिल्म 1944 में आई थी, जिसका नाम 'ज्वार भाटा' था. दिलीप की आत्मकथा 'द सबस्टेंस एंड द शैडो' लिखने वाली उदय तारा नायर ने बताया कि दिलीप साहब अब अच्छे हैं और उनके स्वास्थ्य में काफी सुधार हुआ है.

अमिताभ बच्चन, लता मंगेशकर सहित अन्य फिल्मी हस्तियों ने भी उन्हें जन्मदिवस की बधाई दी और उनकी फिल्मों में से अपनी पसंदीदा फिल्म चुनी. दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो ने कहा, "गंगा जमुना, बेहतरीन कहानी. हर लिहाज से उम्दा. हर फिल्म में उनकी प्रस्तुति लाजवाब थी, मेरा सलाम." अमिताभ बच्चन ने लिखा, "गंगा जमुना." लता मंगेशकर ने लिखा, "वह मेरे सबसे पसंदीदा नायक हैं. शायद इसलिए क्योंकि वह मेरे बड़े भईया हैं और मैं वर्षों से उनकी छोटी बहन हूं, मुझे उनकी सारी फिल्में पसंद हैं लेकिन मुगल-ए-आजम और गंगा जमुना मेरी पसंदीदा फिल्में हैं."

नसीरूद्दीन शाह ने लिखा, "दिलीप कुमार की फिल्मों में मेरी पसंदीदा फिल्म मुगल-ए-आजम है. यह निस्संदेह भारत में बनी बेहतरीन फिल्मों में से एक है." राखी गुलजार ने लिखा, "मुझे उनके साथ शक्ति फिल्म में काम करने का अवसर मिला. यदि आप मनपसंद फिल्में चुनने के लिए कहेंगे तो वह गंगा जमुना और सगीना होगी."

जावेद अख्तर ने कहा, "दिलीप कुमार भारतीय सिनेमा के लिए वही मायने रखते हैं जो संस्कृत के लिए पाणिनी रखते हैं. मुझे उनकी गंगा जमुना, मधुमति और देवदास फिल्में अच्छी लगती हैं." आशा पारेख ने कहा, "उनकी फिल्मों में से एक को मनपसंद के रूप में चुनना मुश्किल है. वह सभी में बहुत अच्छे हैं लेकिन मैं गंगा जमुना का नाम लूंगी." फिल्मकार सुभाष घई ने कहा, "मुझे उन्हें तीन फिल्मों में निर्देशित करने का सौभाग्य मिला था. पसंदीदा फिल्में चुनना थोड़ा मुश्किल है लेकिन मैं देवदास, गंगा जमुना और मुगल-ए-आजम को चुनूंगा."

एमजे/आरआर (वार्ता)

DW.COM

संबंधित सामग्री