1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

जनता के लिए पारंपरिक किला

भूमध्यसागर के बीचों बीच द्वीप पर स्थित फोर दे ब्रेगॉसां में सिर्फ राजनेता छुट्टियां मनाने आया करते थे. लेकिन राष्ट्रपति फ्रांसोआ ओलांद यह परंपरा बदल रहे हैं.

भूमध्यसागर के बीच एक द्वीप है जिसपर एक पुराना किला बना है. किले के चारों तरफ चीड़ के पेड़ हैं और पेड़ों के बीच से नीले समंदर की लहरें दिखाई देती हैं. फोर दे ब्रेगॉसां पुराने जमाने की स्टाइलिश विला सा है. पहले यहां केवल अहम राजनेता छुट्टियां मनाने आया करते थे. लेकिन इस बार फ्रांसोआ ओलांद ने इसे आम लोगों के लिए भी खोल दिया.

फोर ब्रेगॉसां में सार्कोजी के साथ पूर्व विदेश मंत्री कोंडोलीजा राइस

फ्रेंच राष्ट्रपति लोगों को यह संदेश देना चाहते हैं कि मुश्किल आर्थिक हालात में वह उनके साथ हैं. दर्शक किले के डाइनिंग रूम, राष्ट्रपति के दफ्तर और कुछ कमरे देख सकेंगे लेकिन फ्रांस के और महलों की तरह यहां का फर्श संगमरमर के नहीं है बल्कि इनमें साधारण टाइल लगी हैं और इसकी दीवारें सफेद हैं. यह राष्ट्रपति निवास के बजाय किसी परिवार का घर लगता है.

फोर दे ब्रगॉसां को मध्यकाल में बनाया गया लेकिन फ्रांसीसी क्रांति के बाद इसे राष्ट्रीय संपत्ति घोषित कर दिया गया. दूसरे विश्व युद्ध के बाद 1964 में राष्ट्रपति शार्ल दे गॉल ने इसे गणतंत्र निवास बनाया. लेकिन उस वक्त को याद कर रहे इमारत के केयरटेकर ले माग्वारू कहते हैं, "उनकी रात बहुत खराब बीती. उनका बिस्तर बहुत छोटा था और मच्छर बहुत थे." तब से अब तक हर राष्ट्रपति यहां की शांति में वक्त बिताने और अपने काम से राहत पाने के लिए आते हैं.

1995 से 2007 तक राष्ट्रपति जाक शिराक और उनकी पत्नी बेर्नाडेट यहां कई बार आए. 2007 से 2012 तक राष्ट्रपति रहे निकोला सारकोजी यहां अकसर आते थे. यहां कोई स्विमिंग पूल नहीं है और तैरने के लिए समंदर जाना पड़ता है. इसलिए राष्ट्रपति के फोटो लेने को उत्सुक पापाराजी भी अकसर फोर दे ब्रेगॉसां के आसपास मिल जाते हैं.

आलीशान महलों और राष्ट्रपति भवनों की कहानी में यूक्रेन के पूर्व राष्ट्रपति विक्टर यानुकोविच का भवन भी शामिल है जिसे उन्हें इस साल फरवरी में छोड़ना पड़ा. यूक्रेन में बदलाव की मांग कर रहे आम लोग उनके इस घर पर टूट पड़े. इससे पहले यानुकोविच के इस भवन में सिर्फ खास लोगों को आने की इजाजत थी. जनता के छापे से पता चला कि यहां कितनी कीमती चीजें छिपी हैं.

यानुकोविच के पास दर्जनों पुरानी कारों और तस्वीरों का कलेक्शन था. उनके बेडरूम में महंगे कालीन और रेशम के पर्दे थे. उनके प्राइवेट बार में महंगी क्रिस्टल की प्यालियां भी मिलीं. यानुकोविच के महल पर विरोध के कई दिनों बाद तक यूक्रेनी जनता जाती रही और वहां अपने राष्ट्रपति के भ्रष्टाचार के सबूत देखे.

स्पेन के पूर्व राजा खुआन कार्लोस भी अपने आलीशान जीवन के लिए आलोचना का पात्र बने हैं. लेकिन जनता की जागरूकता बढ़ने के साथ साथ अब राजनेता खुद अपनी जीवनशैली को लोगों के सामने रखना चाहते हैं और दिखाना चाहते हैं कि वह भी आम जनता की तरह ही रहते हैं.

एमजी/ओएसजे (एपी)

संबंधित सामग्री