1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

जडेजा की छह गेंदों पर छह छक्के

टीम इंडिया को सुपर 8 के पहले मुकाबले में एक तरफ जहां ऑस्ट्रेलिया से करारी हार का सामना करना पड़ा, वहीं दूसरी ओर रवींद्र जडेजा को शर्मनाक रिकॉर्ड का सामना करना पड़ा, जिनकी लगातार छह गेंदों पर छह छक्के पड़े.

default

बुरी तरह पिटे जडेजा

हालांकि जडेजा ने यह छक्के एक ही ओवर में नहीं खाए, बल्कि ये उनके दो ओवरों में बंटे थे. पहले ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने छक्के जड़े तो दूसरे ओवर की पहली तीन गेंदें बारबाडोस ग्राउंड से बाहर निकाल दी गईं.

चोरी छिपे दूसरी टीम से करार करने की कोशिश करने की वजह से रवींद्र जडेजा इस साल आईपीएल में नहीं खेल पाए. लेकिन इसके बाद ट्वेन्टी 20 वर्ल्ड कप भी उनके लिए अच्छा साबित नहीं हुआ. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सुपर 8 के अहम मैच में जहां एक ओर हरभजन सिंह बेहद कंजूसी से गेंदबाजी कर रहे थे, वहीं दूसरे छोर से जडेजा ने सारे रन उगल दिए.

उनके पहले ओवर की आखिरी तीन गेंदों को शेन वाटसन ने अपने मजबूत बल्ले से नाप दिया. तीनों गेंदें सीमा रेखा से बाहर. पहले ओवर में उन्होंने कुल 19 रन दिए. पहले ओवर की समाप्ति खराब रही तो दूसरे ओवर की शुरुआत. इस बार जडेजा के सामने डेविड वार्नर थे. उन्होंने 21 साल के ऑफ स्पिनर पर कोई रहम नहीं किया और पहली तीनों गेंदों को सीधे सीमा रेखा के पार पहुंचा दिया. दो बार गेंदें स्टेडियम पार कर गईं. जडेजा ने दो ओवर में 38 रन दिए. इसके बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी में उन्हें दोबारा गेंद थमाने की हिम्मत नहीं थी.

इस तरह जडेजा उन गिने चुने गेंदबाजों में शामिल हो गए, जिनकी लगातार छह गेंदों पर छह छक्के लगाए गए हों. हालांकि वह खुशकिस्मत रहे कि सारे छक्के उनके एक ओवर में नहीं लगे और न ही किसी एक बल्लेबाज ने उन्हें छह छक्के ठोंके. भारत यह मैच शर्मनाक तरीके से 49 रन से हार गया.

जहां तक वर्ल्ड कप में एक ओवर में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है, यह भारत के नाम है. युवराज सिंह ने 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में छह छक्के जड़ कर ऐसा रिकॉर्ड बना दिया है, जिसे तोड़ना संभव नहीं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संबंधित सामग्री