1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

छिन जाएगा धोनी से नंबर वन का ताज

टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से वनडे बल्लेबाजों की आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन का ताज छिनने वाला है. इसकी वजह है ज़िम्बाब्वे में शुक्रवार से शुरू हो रही तीन देशों की सीरीज़ में हिस्सा न लेना.

default

अभी तो नंबर हैं माही

एक वनडे मैच में न खेलने से किसी खिलाड़ी की आधा प्रतिशत रेटिंग कम हो जाती है. धोनी ऑस्ट्रेलिया के माइकल हसी से आठ अंकों की बढ़त के साथ फिलहाल नंबर वन की गद्दी पर विराजमान हैं. लेकिन जब जिम्बाब्वे में सीरीज़ के बाद रैंकिंग जारी होगी तो धोनी हसी से पिछड़ चुके होंगे.

धोनी ने फरवरी में हसी को पछाड़ते हुए नंबर वन रैंकिंग हासिल की थी. उस वक्त हसी ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ चौथे वनडे मैच में 23 रन ही बनाए जबकि पांचवें मैच में वह खेले ही नहीं. सचिन तेंदुलकर (चौथा स्थान), कुमार संगकारा (दसवां स्थान), वीरेंद्र सहवाग (11वां स्थान), युवराज सिंह (14वां स्थान), गौतम गंभीर (23वां स्थान) और महेला जयवर्धने (29वां स्थान) की रैंकिंग भी फिसलने की संभावना है क्योंकि ये सभी ज़िम्बाब्वे में 28 मई से 9 जून तक चलने वाली सीरीज़ में हिस्सा नहीं ले रहे हैं.

दरअसल भारत और श्रीलंका ने लो प्रोफाइल समझी जाने वाली ज़िम्बाब्वे की सीरीज़ के लिए अपने अपने टॉप खिलाड़ियों को न भेज कर उन्हें आराम दिया है. ऐसे में ज़िम्बाब्वे के दौरे पर गए युवा खिलाड़ियों के पास अपना हुनर दिखाने और अपनी रैंकिंग बढ़ाने का अच्छा मौका है.

एकदिवसीय गेंदबाज़ों की आईसीसी रैंकिंग में श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन का मार्च 1996 के बाद पहली बार टॉप 20 से बाहर होना तय है. वह भी ज़िम्बाब्वे में नहीं खेल रहे हैं. मुरली पाकिस्तान के सईद अजमल और वेस्ट इंडीज़ के डायने ब्रावो से सिर्फ छह अंक आगे हैं.

वहीं वनडे चैंपियनशिप तालिका में भारत अभी 122 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है जबकि श्रीलंका के पास 108 अंक हैं और वह छठे पायदान पर है. ज़िम्बाब्वे 10वें स्थान पर है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः ईशा भाटिया

संबंधित सामग्री