1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

छह महीने बाद पति निकला औरत

उड़ीसा के राउरकेला की मिनाती खटुआ की हाथों की मेहंदी तो सूख चुकी थी लेकिन शादीशुदा जिंदगी के ख्वाब अभी नए ही थे. लेकिन ख्वाब पूरे होते उससे पहले उन्हें एक औरत ने तोड़ दिया जो उसका पति बनकर रह रही थी.

default

शादी के छह महीने बाद मिनाती को पता चला कि उन्होंने जिससे शादी की है वह मर्द नहीं औरत है. लेकिन उससे पहले ही उनका पति यानी वह औरत रफूचक्कर हो चुकी थी. और साथ में गायब हो गई थी एक जीप और एक कार जो मिनाती के नाम पर लोन लेकर ही खरीदी गईं.

27 साल की मिनाती ने स्थानीय पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

पुलिस ने बताया कि मिनाती ने सीताकांत राउत्रे नाम के एक व्यक्ति से शादी की. राउत्रे का उनकी बहन के घर काफी आना जाना था. मिनाती अपनी बहन के पास ही रहती थीं. उन्हें राउत्रे से प्यार हो गया. दोनों ने मंदिर में शादी कर ली. अगले ही दिन उन्होंने एक नोटरी के सामने भी अपनी शादी का रजिस्ट्रेशन करा लिया.

शादी के बाद भी दोनों के बीच किसी तरह के शारीरिक संबंध नहीं थे. मिनाती को शक इसलिए नहीं हुआ क्योंकि राउत्रे ने कहा कि वह छह महीने का व्रत कर रहा है जिसके बाद पुरी के जगन्नाथ मंदिर में पूजा करनी होगी. मिनाती भी इस झांसे में आ गईं.

शादी के दो महीने बाद ही दोनों कटक में मिनाती के गांव गए. वहां मिनाती के रिश्तेदारों को कुछ शक हुआ. उन्होंने मिनाती को सावधान किया. तब से उन्होंने ध्यान देना शुरू किया. और जब उन्हें पता चला कि राउत्रे वाकई पुरुष नहीं महिला है, तब तक वह कार और जीप लेकर फरार हो गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links