1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

छठी बार यूरोपीय चैंपियन

जर्मन महिला फुटबॉल टीम ने छठी बार यूरोपीय चैंपिनशिप जीत लिया है. जर्मनी की टीम ने नॉर्वे के खिलाफ एक गोल किया और बढ़िया जीत हासिल की.

जर्मन महिलाओं की फुटबॉल टीम लगातार पिछले छह चैंपनियनशिप जीत रही है. यूरोपीय कप हर दो साल में होता है. कप्तान और गोलकीपर नादीन आंगेरर मैच की हीरो रहीं, उन्होंने पेनल्टी शूट में नॉर्वे को कोई गोल करने नहीं दिया. शुरुआत में ऐसा लग रहा था कि नॉर्वे आगे बढ़ रहा है. 1993 के बाद नॉर्वे ने यह खिताब नहीं जीता है. जर्मनी की सेलियो ओकोयीनो दा म्बाबी ने नॉर्वे की कैथरीन डेकरहुस को गेंद गोलपोस्ट तक पहुंचाने से रोका और नॉर्वे की ट्रीन ब्येर्के रोनिंग ने फिर से गोल बनाने की कोशिश की लेकिन जर्मन गोलकीपर इन्हें रोकने में सफल रहीं. हाफटाइम तक कोई भी टीम स्कोर नहीं कर पाई.

हाफटाइम के बाद जर्मनी की आन्या मिटाग ने टीम को बढ़त दिलाई. इस वक्त तक नार्वे की टीम उन पर हावी रही लेकिन दा म्बाबी ने मिटाग को गेंद पास किया और टीम गोल बनाने में सफल रही. 10 मिनट बाद नॉर्वे दोबारा अपने आक्रामक खेल पर वापस आ गया. रेफरी क्रिस्टीना दोर्सियोमान ने जब पेनल्टी शॉट का एलान किया तो नॉर्वे की सोलवेग गुलब्रांडसेन ने गोल मारने की कोशिश की लेकिन गोलकीपर और कप्तान आंगेरर ने फिर उनकी कोशिशों को नाकाम कर दिया.

खेल के दौरान नॉर्वे का तनाव कम होता नहीं दिख रहा था.जर्मनी की टीम उन्हें गोल बनाने नहीं दे रही थी और अंत में जर्मनी की ही जीत हुई. यह जर्मनी की छठी जीत है. टीम की कोच सिल्विया नाइड को अपनी टीम पर गर्व है. लेकिन मैच की हीरो रहीं आंगेरर जिन्होंने लगातार अपना पांचवां यूरोपीय कप जीता है.

रिपोर्टः डेव ऐश/एमजी

संपादनः एन रंजन

DW.COM

संबंधित सामग्री