1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चौथी बार गोवा के सीएम बनेंगे पर्रिकर

भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर फिर अपने गृह राज्य गोवा की कमान संभालेंगे. गोवा में उन्हीं के नाम पर बीजेपी को दूसरी पार्टियों का समर्थन मिल रहा है.

बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. पर्रिकर ने रक्षा मंत्री के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है. गोवा में बीजेपी ने 13 सीटें जीती हैं. सरकार बनाने के लिए आठ विधायकों के समर्थन की जरूरत है. पर्रिकर के पास बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय होगा. साथ ही उन्हें छह महीने के भीतर राज्य में होने वाला उपचुनाव जीतना होगा.

28 महीने तक भारत के रक्षा मंत्री का कार्यभार संभालने वाले पर्रिकर को गोवा का सुपर चीफ मिनिस्टर भी कहा जाता है. आईआईटी बॉम्बे के छात्र रह चुके पर्रिकर बेहद कर्मठ छवि वाले नेता माने जाते हैं.

तीन सीटें जीतने वाली गोवा की एमजीपी (महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी) पहले ही कह चुकी है कि अगर पर्रिकर को मुख्यमंत्री बनाया गया, तभी वह बीजेपी को समर्थन देगी. तीन सीटें जीतने वाली गोवा फॉरवर्ड पार्टी ने भी बीजेपी को समर्थन देने का लिखित आश्वासन दिया है. 17 सीटें जीतने वाली कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद सरकार गठन से दूर खड़ी है.

गोवा की तस्वीर साफ हो चुकी है. अब बीजेपी को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के लिए मुख्यमंत्री चुनना है. यह काम आसान नहीं है. दोनों प्रदेशों में पार्टी को ऐतिहासिक बहुमत मिला है. साथ ही मुख्यमंत्री पद के कई दावेदार हैं. पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में भी बीजेपी सरकार बनाने का दावा कर रही है, हालांकि अभी मुख्यमंत्री के नाम पर सहमति नहीं बनी है.

कांग्रेस को बहुमत दिलाने वाले अकेले राज्य पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह का मुख्यमंत्री बनना पक्का समझा जा रहा है.

(क्यों इतना अहम है यूपी का चुनावी नतीजा )

ओएसजे/एमजे (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री