1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

चैंपियंस लीग में धोनी का धमाकेदार आगाज

दक्षिण अफ्रीका में खेली जा रही चैंपियंस लीग टी20 के मैचों में पहली दो जीत घरेलू टीमों के हाथ लगी, लेकिन भारत की टीम चेन्नै सुपरकिंग्स ने इस सिलसिले को तोड़ते हुए शनिवार को न्यूजीलैंड की सेंट्रल स्टैग्स को पटखनी दी.

default

भारतीय लीग आईपीएल की चैंपियन महेंद्र सिंह धोनी की सुपरकिंग्स ने 57 रन से यह मैच जीतकर टूर्नामेंट में धमाकेदार आगाज किया. इससे पहले एक अन्य भारतीय टीम मुंबई इंडियंस शुक्रवार को अपने पहले मैच में दक्षिण अफ्रीकी टीम हाइवेल्ड लायंस से हार गई थी.

डरबन में सुपरकिंग्स और स्टैग्स के बीच खेले गए मैच में सुबह की बारिश की वजह से पिच में अच्छा खासा उछाल रहा, जिसका गेंदबाजों को भरपूर फायदा मिला. इसका नुकसान धोनी के बल्लेबाजों को हुआ. पहले बैटिंग करने उतरी धोनी की टीम के तीन दिग्गज मैथ्यू हेडन, सुरेश रैना और मुरली विजय के विकेट जल्दी जल्दी गिर गए. लेकिन बद्रीनाथ के साथ मिलकर भारत पूर्व क्रिकेटर के श्रीकांत के बेटे अनिरुद्ध श्रीकांत ने चौथे विकेट के लिए 73 रन की अहम साझेदारी निभाई. बद्रीनाथ ने कुल 52 रन बनाए और वह आखिर तक आउट नहीं हुए. श्रीकांत ने 42 रन बनाए.

इन दोनों की बढ़िया पारियों की बदौलत धोनी की टीम ने चार विकेट खोकर 151 रन का स्कोर खड़ा किया. हालांकि महेंद्र सिंह धोनी को बैटिंग का मौका नहीं मिला. टीम के कोच स्टीफन फ्लेमिंग का कहना था कि धोनी फ्लू से पीड़ित हैं.

लेकिन जब सुपरकिंग्स गेंदबाजी करने उतरी तो धोनी अपनी जगह यानी विकेट के पीछे ग्लव्स पहने पहुंच गए. उन्होंने वहां से कप्तानी की अपनी जानीमानी तकनीक अपनाते हुए बोलिंग में शुरुआत से ही प्रयोग करने शुरू किए. इसका नतीजा यह हुआ कि तेज गेंदबाज डग बोलिंगर और लक्ष्मीपति बालाजी ने स्टैग्स को बड़े झटके दिए और बाद में स्पिनर मुथैया मुरलीधरन और रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें इन झटकों से उबरने नहीं दिया.

गेंदबाजों ने ऐसा कहर बरपाया कि स्टैग्स की पूरी टीम 94 रन पर पैविलियन लौट गई. उनके कप्तान जैमी हाउ ने हार के लिए खराब बल्लेबाजी को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि गेंदबाजों ने अपना काम बखूबी किया लेकिन बैटिंग में खिलाड़ी अच्छा नहीं कर पाए.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links