1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

चेन्नई ने रोका मुंबई का विजय रथ

अजेय दिखाई दे रही मुंबई इंडियंस की जीत का सिलसिला आख़िरकार टूट गया है. चेन्नई सुपर किंग्स के गेंदबाज़ों ने मुंबई टीम के मज़बूत बल्लेबाज़ों को जमने का मौक़ा नहीं दिया और 24 रन से हरा दिया.

default

हरभजन ने खेली जुझारू पारी

चेन्नई ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया और मुंबई इंडियंस के सामने 166 रन का लक्ष्य रखा. मुंबई के बल्लेबाज़ों की फ़ॉर्म को देखते हुए लक्ष्य बड़ा नहीं लग रहा था. सचिन तेंदुलकर और शिखर धवन ने पारी की शुरुआत की और 46 रन तक स्कोर ले गए. शिखर 16 रन बनाकर आउट हुए. साझेदारी टूटने के बावजूद मुंबई के लिए ख़तरा नहीं लग रहा था.

Chennai Super Kings Cricket

मुश्किल तब शुरू हुई जब ज़्यादा गर्मी के चलते तेंदुलकर 9वें ओवर में मैदान से बाहर (रिटायर्ड हर्ट) चले गए. उस समय मुंबई का स्कोर 62 रन था. तेंदुलकर ने 6 चौकों की मदद से 28 गेंदों में 36 रन बनाए. लेकिन उनके बाहर जाते ही मुंबई के जल्दी जल्दी विकेट गिरने लगे. सचिन के मैदान से बाहर जाते ही चेन्नई की बॉलिंग में भी जोश आया और बल्लेबाज़ों पर दबाव कस दिया.

रायडू, पोलार्ड, ब्रावो, सतीश के विकेट गिरते रहे और मुंबई की पारी ताश के पत्तों की तरह ढह गई. टीम के विकेट लगातार गिरते देख तेंदुलकर मैदान पर लौटे ज़रूर लेकिन अपने निजी स्कोर में सिर्फ़ 9 रन ही जोड़ पाए.

आख़िर में हरभजन सिंह ने कुछ छक्के लगा कर मैच में वापसी की बहुत कोशिश की लेकिन लक्ष्य और रन रेट उस समय तक मुश्किल हो चुका था. हरभजन की 23 गेंदों में 33 रन की पारी ने दर्शकों का मनोरंजन ज़रूर किया. मुंबई 20 ओवर में 9 विकेट के नुक़सान पर 141 रन ही बना पाई.

चेन्नई की फ़ील्डिंग भी शानदार रही और तुषारा और मुरली विजय ने बेहतरीन कैच पकड़े. इससे पहले चेन्नई ने पहले खेलते हुए चार विकेट पर 165 रन बनाए.

मैथ्यू हेडन टॉप स्कोरर रहे और उन्हें 31 गेंदों में 35 रन बनाए. महेंद्र सिंह धोनी ने भी 31 रन की तेज़ पारी खेली और बद्रीनाथ ने भी उपयोगी 30 रन बनाए. मुंबई इंडियंस के गेदबाज़ों ने सधी हुई बॉलिंग की और चेन्नई को खुल कर रन बनाने का मौक़ा नहीं दिया.

चेन्नई की यह लगातार तीसरी जीत है और अब 10 मैचों में 10 अंकों के साथ वह चौथे स्थान पर आ गई है. मुंबई ने 9 मैच खेले हैं और इस हार के बावजूद 14 अंकों के साथ वह टॉप पर बनी हुई है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ए कुमार