1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

चीन में स्मॉग की चेतावनी पर रोक

चीन के प्रशासन ने स्थानीय मौसम विभाग को स्मॉग संबंधी चेतावनी जारी न करने का आदेश दिया, कहीं सरकार की मंशा वायु प्रदूषण से जुड़े तथ्यों को छुपाने की तो नहीं है?

चीन के मौसम विभाग ने मंगलवार देर रात अधिसूचना जारी कर तत्काल प्रभाव से स्मॉग संबंधी चेतावनी जारी करने पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं. सरकार के मुताबिक अब इन सारी चेतावनियों को किसी एक विभाग द्वारा ही जारी किया जाएगा ताकि विभागों के बीच होने वाले अंतर को समाप्त किया जा सके. सरकार समर्थित चीन के एक ऑनलाइन प्रकाशन द पेपर ने मौसम विभाग के प्रतिनिधि के हवाले से कहा है कि मौसम ब्यूरो और पर्यावरण संरक्षण से जुड़े विभागों में मौसम और स्मॉग संबंधित जानकारी को लेकर अक्सर मतभेद रहते हैं. उन्होंने कहा कि इसे लेकर एक संयुक्त चेतावनी प्रक्रिया तैयार किया जाएगी ताकि इस पर चर्चा की जा सके कि किसके द्वारा ऐसी चेतावनियां जारी की जानी चाहिए.

चीनी अधिकारियों द्वारा एक कलर कोड सिस्टम को स्मॉग संबंधी जानकारियों के लिए अब तक इस्तेमाल किया जाता है. इसमें अगर लाल रंग है तो इसका अर्थ है कि गंभीर प्रदूषण का स्तर बीते 72 घंटे से भी ज्यादा रहेगा यह तंत्र दफ्तरों, स्कूलों और आम लोगों को स्मॉग की जानकारी देता है ताकि समय रहते आपातकालीन कदम उठाए जा सके, मसलन सड़कों से गाड़ियों को हटाना और प्रदूषण फैलाने वाले कारखानों को बंद करना.

पिछले कुछ समय में कई स्थानीय और राष्ट्रीय विभागों ने अलग- अलग अलर्ट जारी किए हैं जिसके चलते कई बार स्कूलों, कारखानों के सामने ये भी चुनौती आई है कि किसे माना जाए और किसे न माना जाए.

आलोचक कहते रहे हैं कि सरकार चेतावनियां जारी करने को लेकर हिचकिचाती रही है, क्योंकि सरकार को डर है कि कही ऐसी खबरें उसके आर्थिक प्रदर्शन को नुकसान न पहुंचाए. सरकार के इस फरमान को चीन की ब्लॉगिंग साइट वाइवो पर बहुत ज्यादा शेयर किया जा रहा है.

मौसम की जानकारी पेश करने वाली एक स्थानीय संस्था ने अपने आधिकारिक वाइवो एकाउंट पर लिखा है कि पर्यावरण संरक्षण मंत्रालय से मौसम विभाग हार चुका है. 

वायु प्रदूषण पिछले कई सालों से चीन में आम आदमी के गुस्से का कारण रहा है. तीव्र आर्थिक विकास को देश में होनी वाली पर्यावरण से जुड़ी समस्याओं के लिए जिम्मेदार माना जाता रहा है. वाइवो पर एक यूजर ने लिखा है कि अब तक ये विभाग हमें अलग-अलग बेवकूफ बनाते थे और अब ये हमें साथ मिलकर बेवकूफ बनाएंगे.

(स्मॉग से हांफती दिल्ली)

एए/ओएसजे (रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री